December 5, 2021

जनमंच में बुजुर्ग महिला ने हाथों में थैला लिए रजिस्ट्री कराने की लगाई फरियाद, बिक्रम बोले तुरंत करो कार्रवाई

जनमंच में बुजुर्ग महिला ने हाथों में थैला लिए रजिस्ट्री कराने की लगाई फरियाद, बिक्रम बोले तुरंत करो कार्रवाई
जनमंच में बुजुर्ग महिला ने हाथों में थैला लिए रजिस्ट्री कराने की लगाई फरियाद, बिक्रम बोले तुरंत करो कार्रवाई
ऊना, 21 नवंबरः गगरेट विस क्षेत्र के मुबारिकपुर में आयोजित किए गए जनमंच के दौरान राजस्व, ग्रामीण विकास, पुलिस तथा जल शक्ति विभाग से संबंधित अधिकतर समस्याएं प्राप्त हुई।
कार्यक्रम के दौरान भंजाल अप्पर निवासी बुजुर्ग महिला राजेभश्वरी देवी ने हाथों में कागज का बैग लिए उद्योग मंत्री के समक्ष फरियाद लगाते हुए कहा कि राजस्व विभाग मेरी रजिस्ट्री नहीं करता, जबकि मेरा मकान बन चुका है। उन्होंने कहा कि भूमि बेचने वाले रजिस्ट्री कराने में आना-कानी कर रही है जबकि अदालत में भी मैं केस जीत चुकी हूं। बुजुर्ग महिला ने भावुक होते हुए कहा कि जमीन बेचने वाले अभी भी अढ़ाई लाख रुपए की मांग कर रहा है। इस पर उद्योग मंत्री बिक्रम सिंह ठाकुर ने कहा कि राजस्व अधिकारी तुरंत इस पर कार्रवाई करें।
वहीं लोहरली निवासी शालू ठाकुर ने रोते हुए कहा कि उसके पति की हत्या अढ़ाई वर्ष पहले हो चुकी है और राजस्व विभाग अपने पति की उत्तराधिकारी के रूप में जमीन उनके नाम नहीं कर रहा है। इस विषय पर भी मंत्री बिक्रम ठाकुर ने राजस्व विभाग के अधिकारियों को उचित कार्रवाई के निर्देश दिए।
जनमंच में अप्पर अंदौरा निवासी सुरेंद्र कुमार कहा कि उनका पुत्र एक फैक्ट्री में जेसीबी चलाने का काम करता था और एक दिन उसे मैनेजर ने हायड्रा चलाने के लिए कहा तो उसने कहा कि मुझे यह नहीं चलानी आती। जिस कारण मैनेजर ने बेटे के साथ मारपीट की तथा उसे गंभीर चोटें आईं। इस संबंध में जब उन्होंने पुलिस में शिकायत की तो पुलिस वालों ने उल्टा उन्हीं के विरुद्ध मामला दर्ज कर दिया इस विषय पर मंत्री ने कहा कि मामला गंभीर है और पुलिस अधिकारियों को तुरंत मामला की निष्पक्ष जांच के निर्देश दिए।
अंतिम पंक्ति में खड़े व्यक्ति की चिंता करें अधिकारीः बिक्रम ठाकुर
जिला ऊना के पात्र कामगारों को विभिन्न योजनाओं में 20.72 करोड़ की मदद दीः बिक्रम
मुबारिकपुर में आयोजित जनमंच में बोले उद्योग एवं परिवहन मंत्री बिक्रम सिंह ठाकुर 
जनमंच में 72 जनसमस्याओं की हुई सुनवाई
ऊना, 21 नवंबर: गगरेट विस क्षेत्र के मुबारिकपुर में 24 जनमंच कार्यक्रम आयोजित किया गया, जिसकी अध्यक्षता उद्योग, परिवहन एवं श्रम व रोजगार मंत्री बिक्रम सिंह ठाकुर ने की। जनमंच में कुल 72 जनसमस्याओं की सुनवाई हुई। इनमें से 43 जनमस्याएं चयनित 10 ग्राम पंचायतों से संबंधित रही, जबकि 20 क्लस्टर पंचायतों से बाहर की रहीं। नौ जन समस्याएं प्री-जनमंच में प्राप्त हुईं।
कार्यक्रम में उद्योग, श्रम एवं रोजगार व परिवहन मंत्री विक्रम सिंह ने कहा कि जनमंच जय राम सरकार की महत्वकांक्षी योजना है, जिसका उद्देश्य गांव में जाकर मौके पर लोगों की जन शिकायतों का निपटारा करना है। उन्होंने कहा कि अधिकारी अंतिम पंक्ति में खड़े व्यक्ति चिंता करें तथा लोगों की समस्या का त्वरित निपटारा करें।
उन्होंने कहा कि कामगार कल्याण बोर्ड से पंजीकृत कामगारों व उनके परिवार के कल्याण के लिए प्रदेश सरकार अनेकों योजनाएं चला रही है। उन्होंने कहा कि बोर्ड के साथ पंजीकृत कामगार की दुर्घटना में मृत्यु पर 4 लाख रुपए तथा प्राकृतिक मृत्यु पर दो लाख रुपए की सहायता राशि परिवार को प्रदान की जाती है। इसके अलावा कामगार के दो बच्चों को शिक्षा के लिए भी मदद दी जाती है। पंजीकृत कामगार के पहली से आठवीं कक्षा तक पढ़ने वाले पात्र विद्यार्थियों को 8400 रूपए प्रति वर्ष, नौवीं से बारहवीं तक के लिए 12 हजार रूपए प्रतिवर्ष, स्नातक कर रहे विद्यार्थियों के लिए 36 हजार रूपए प्रतिवर्ष, स्नातकोत्तर वाले विद्यार्थियों को 60 हजार, आईटीआई के लिए 48 हजार तथा पॉलिटेक्निकल कोर्स के लिए 60 हजार रूपए की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। इसके अलावा व्यावसाय संबंधी कोर्स के लिए 1 लाख 20 हजार रूपए प्रतिवर्ष आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जाती है। उन्होंने कहा कि दो बच्चों के विवाह के लिए भी लाभार्थी को 51 हजार रुपए की सहायता राशि देने का प्रावधान है।
बिक्रम सिंह ने कहा कि कामगार बोर्ड में पंजीकृत लाभार्थी को मुख्यमंत्री आवास योजना व प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 1 लाख 50 हज़ार रूपए की आर्थिक मदद भी प्रदान की जाएगी। इसके अलावा पंजीकृत विधवा लाभार्थियों को 15 सौ रूपए प्रतिमाह विधवा पेंशन दी जाती है।
उन्होंने कहा कि जिला ऊना में पंजीकृत कामगारों की संख्या 23,839 है। लाभार्थियों को विभिन्न योजनाओं में 20.72 करोड़ की आर्थिक सहायता प्रदान की गई है। जबकि कोरोना संकट के दौरान जिला ऊना के 8270 पात्र कामगारों को लगभग पांच करोड़ की सहायता प्रदान की गई है। उन्होंने कहा कि ई-श्रम पोर्टल में असंगठित क्षेत्र के 12,589 कामगारों का पंजीकरण किया गया है तथा इस कार्य को युद्ध स्तर पर करने के निर्देश दिए गए हैं।
इससे पूर्व गगरेट विधायक राजेश ठाकुर ने उद्योग, श्रम एवं रोजगार व परिवहन मंत्री विक्रम सिंह का कार्यक्रम में स्वागत किया और कहा कि इस क्षेत्र में पहली बार जनमंच का आयोजन किया जा रहा है तथा सरकार द्वारा घर-द्वार पर जाकर लोगों की शिकायतों का निपटारा किया जा रहा है।
कार्यक्रम के दौरान उपायुक्त ऊना राघव शर्मा ने उद्योग, श्रम एवं रोजगार व परिवहन मंत्री विक्रम सिंह का स्वागत किया और उन्हें प्री-जनमंच गतिविधियों के बारे में विस्तार से जानकारी प्रदान की।
इस अवसर पर भाजपा मंडल अध्यक्ष सतपाल सिंह, नरेश जसवाल, विश्वजीत पटियाल, सन्नी पटियाल, अनिल डढवाल, जिलाधीश ऊना राघव शर्मा, एडीसी डॉ. अमित कुमार शर्मा, एसपी अर्जित सेन, एसडीएम विनय मोदी, मनेश कुमार यादव सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी व पंचायत प्रतिनिधि उपस्थित रहे।

जनमंच में महिला उद्यमिता को मिला गरिमा सम्मान, तीन महिला उद्यमियों को किया गया सम्मानित

ऊना, 21 नवंबरः उद्योग, श्रम एवं रोजगार व परिवहन मंत्री बिक्रम सिंह ने जनमंच के दौरान ऊना जिला की तीन महिला उद्यमिता को सम्मानित किया गया है। जिनमें गगरेट निवासी नीति आर्या को सम्मान प्रदान किया है। नीति वर्तमान में अपने पति के साथ मिलकर कैंडल लाइट ड्यूक नाम से मोमबत्ती का कारोबार कर रही हैं, जिन्हें देश के कोने-कोने में बेचा जा रहा है। वहीं धमांदरी निवासी शिवाली धीमान को कंपोस्ट खाद तैयार कर उद्यमिता को नई दिशा प्रदान करने के लिए गरिमा सम्मान दिया गया। उन्होंने अपनी बंजर भूमि पर कंपोस्ट खाद तैयार करना आरंभ किया था और आज वह किसानों को कंपोस्ट खाद बेच रही हैं। इसके अतिरिक्त अंबोटा निवासी निशा सूद शहद के कारोबार से जिला ऊना का स्वाद हर कोने तक पहुंचाने का कार्य करने के लिए सम्मानित किया गया। निशा अपने पुत्र के साथ मिलकर मधुमक्खी पालन से जुड़ी हैं।
गरिमा योजना में चार को दी 21 हजार की एफडी
कार्यक्रम में बिक्रम सिंह ठाकुर ने बेटी गोद लेने वाले परिवारों को भी गरिमा योजना के तहत जिला प्रशासन की गरिमा योजना के तहत शिवानी चौधरी, शिल्पा, तानिया व राधा के माता-पिता को 21-21 हजार रुपए की एफडी प्रदान की गई। वहीं उच्च शिक्षा के लिए ऋण लेने वाले माता-पिता को भी गरिमा योजना के तहत सम्मानित किया गया। उद्योग एवं परिवहन मंत्री ने पूर्वा ठाकुर, कविता, भावना ठाकुर व कनिका के माता-पिता को प्रोत्साहन राशि प्रदान की। 
इसके अलावा मेरे गांव की बेटी मेरी शान के तहत विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाली बेटियों की तस्वीर वाले बोर्ड डोली, सोनिया कुमारी, मोनू, रेखा कुमारी, स्वाति कौशल, नरेश कुमारी, शिया पधीर, अर्चिता शर्मा, रूचिका जसल, डॉ. कनिका ठाकुर, मानवी ठाकुर, अनुकृति, मिनाक्षी, ऋचा जसवाल व डॉ. गीताजंलि सिंह को भेंट की।
इसके अतिरिक्त बिक्रम सिंह ठाकुर ने मुख्यमंत्री गृहिणी सुविधा योजना के तहत 11 परिवारों को निशुल्क गैस कनेक्शन भी प्रदान किए।
इससे पूर्व उद्योग एवं परिहवन मत्री ने विभिन्न विभागों द्वारा लगाई गई विकासात्मक प्रदर्शनियों का अवलोकन भी किया।
45 लाभार्थियों को लगी कोविड की दूसरी वैक्सीन
मुबारिकपुर में जन मंच कार्यक्रम के दौरान वैक्सीनेशन कैंप भी स्थापित किया गया था, जिसमें 45 लाभार्थियों ने कोविड वैक्सीन की दूसरी डोज लगवाई। इसके अतिरिक्त स्वास्थ्य विभाग ने 152 लोगों के स्वास्थ्य की जांच की और 126 मेडिकल टेस्ट किए। आयुष विभाग ने 132 लोगों का स्वास्थ्य जांचा। इसके अतिरिक्त ई-श्रम पोर्टल पर 15 कामगारों का पंजीकरण किया गया।