January 19, 2022

ऊना बुलेटिन : ऊना की खबरें 7 दिसंबर 2021

ऊना बुलेटिन : ऊना की खबरें  7 दिसंबर 2021
एक साल-पांच काम अभियान से गांव के विकास को मिलेगी गतिः कंवर
वीरेंद्र कंवर ने बरनोह में सुनीं जन समस्याएं, विकास कार्यों का किया निरीक्षण
ऊना, 7 दिसंबर: ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज, मत्स्य, कृषि व पशु पालन मंत्री वीरेंद्र कंवर ने आज कुटलैहड़ विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम बरनोह में चल रही विभिन्न विकास परियोजनाओं का जायजा लिया और स्थानीय लोगों की समस्याएं सुनी। उन्होंने संबंधित विभागों को विकासात्मक कार्यों को समयबद्ध पूर्ण करने के निर्देश भी दिये। इसके उपरांत बरनोह में एक जनसभा में उन्होंने पंचायत प्रतिनिधियों से आह्वान किया कि वह अपने-अपने क्षेत्र में एक साल-पांच काम अभियान के तहत विकास कार्य करें, ताकि उनकी पंचायतें में आधारभूत ढांचा सुदृढ़ हो सके।
ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर ने कहा कि किसानों की आय वृद्धि के लिए प्रदेश सरकार भरसक प्रयास कर रही है। शिवा प्रोजेक्ट तहत कुटलैहड़ में बड़े स्तर पर फलदार पौधे अनार, अमरूद व माल्टा लगाए जा रहे हैं तथा आने वाले समय में इससे किसानों की आमदनी में बढ़ौतरी होगी। उन्होंने बताया कि शिवा के अंतर्गत उन क्षेत्रों को विकसित करने को प्राथमिकता दी गई है, जहां अभी तक फल उत्पादन कम होता है। इसके अतिरिक्त ऐसे स्थानों को भी परियोजना में शामिल किया गया है, जहां जंगली जानवरों से प्रभावित किसानों ने खेती-बाड़ी करना छोड़ दिया है, ताकि इन क्षेत्रों के लोगों को बागवानी से जोड़कर आर्थिक रूप से सक्षम बनाया जा सके।
इसके अतिरिक्त ग्रामीण विकास मंत्री वीरेंद्र कंवर ने कहा कि कुटलैहड़ विधानसभा क्षेत्र को पर्यटन की दृष्टि से विकसित जा रहा है। सोलह सिंगी धार व रामगढ़ धार को पैराग्लाडिंग के साथ जोड़ा जा रहा है। साथ ही गोबिंद सागर झील में वाटर स्पोर्ट्स गतिविधियों को बढ़ावा दिया जा रहा है, जिसका केंद्र अंदरौली होगा। पर्यटन के बढ़ने से स्थानीय युवाओं को रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे। उन्होंने कहा कि कुटलैहड़ विस के बौल गांव को बैंबू विलेज विकसित किया जा रहा है, जिसके बनने से युवाओं को रोजगार के अवसर भी प्रदान होंगे।
उन्होंने कहा कि जल्द ही बरनोह में आईपीएच के विश्राम गृह का निर्माण भी शीघ्र किया जाएगा। कंवर ने कहा कि बरनोह में क्षेत्रीय पशु औषधालय तथा मुर्राह फार्म का कार्य भी प्रगति पर है। इनके निर्माण से अन्यों जिलों व बाहरी राज्यों के पशु पालकों को इसका लाभ मिल पाएगा।
उन्होंने पंचायती राज संस्थाओं के प्रतिनिधि से आहवान किया कि सरकार द्वारा चलाई जा रही लोगों के कल्याणनार्थ योजनाओं की पूर्ण जानकारी रखें और अंतिम पंक्ति में खड़े पात्र व्यक्ति तक उसका लाभ पहुंचाएं। उन्होंने कहा कि पंचायतें गांव के विकास में अहम भूमिका निभाने का कार्य भी करती है। सरकार द्वारा मनरेगा योजना के अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्रों के लिए कई और विकासात्मक कार्य जोड़े गए हैं जिससे गांव का भरपूर विकास होगा और प्रत्येक गांव एक आदर्श गांव के रूप में विकसित होगा।
इस अवसर पर उपाध्यक्ष जिला परिषद कृष्ण पाल शर्मा, जिला परिषद सदस्य निशा भुल्लर, प्रदेश सचिव बीजेपी सुमित शर्मा, बीजेपी प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्य एवं कुटलैहड़ विस के प्रभारी यशपाल राणा, जिला अध्यक्ष बीजेपी मनोहर लाल शर्मा, मंडल अध्यक्ष मास्टर तरसेम, बीडीओ ऊना रमनबीर चौहान सहित विभिन्न पंचायती राज संस्थानों के प्रतिनिधि व अन्य विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।
सशस्त्र सेना झंडा दिवस पर डीसी को लगाया झंडा
ऊना, 7 दिसंबर: सशस्त्र सेना झण्डा दिवस के अवसर पर उपनिदेशक जिला सैनिक कल्याण बोर्ड ने उपायुक्त, ऊना राघव शर्मा सहित सभी अधिकारियों को सेना झंडा लगाया।
इस अवसर पर डीसी राघव शर्मा ने कहा कि झण्डा दिवस का मुख्य उद्देश्य उन शूरवीरों के परिवारों की सहायता करना है, जिन्होंने देश की रक्षा के लिए अपने प्राणों की आहूति दी है। उन्होंने कहा कि झंडा दिवस जहां हमारे जवानों की पावन स्मृतियों को चिरस्मरणीय एवं अमर बनाता है वहीं उनके अद्भुत शौर्य, पराक्रम, त्याग और बलिदान के प्रति हमारा राज्य एवं राष्ट्र कृतज्ञ है। हमारा यह कर्तव्य है कि देश पर बलिदान होने वाले जवानों के आश्रितों की उचित सहायता की जाए। उन्होंने जिला के समस्त नागरिकों से अनुरोध किया है कि झण्डा दिवस पर उदारता से दान दें।
 उन्होंने कहा कि हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी झण्डा दिवस 7 दिसम्बर को मनाया गया। उन्होंने बताया कि झंडा दिवस पर एकत्रित निधि सैनिकों, पूर्व सैनिकों व उनके आश्रितों के कल्याण हेतु उपयोग की जाती है।
मनरेगा के तहत 14.81 लाख कार्य दिवस अर्जित किए गएः डीसी 
डीसी राघव शर्मा ने ग्रामीण विकास विभाग की योजनाओं की समीक्षा की
ऊना, 7 दिसंबर – जिला ऊना के पांचों विकास खंडों में चल रहे विकास कार्यों के कार्यान्वयन की प्रगति की समीक्षा को लेकर आज उपायुक्त, ऊना राघव शर्मा की अध्यक्षता में बैठक आयोजित हुई।
इस दौरान योजनाओं की समीक्षा करते हुए डीसी राघव शर्मा ने बताया कि चालू वित्त वर्ष के दौरान मनरेगा के तहत 14,81,938 कार्यदिवस के लक्ष्य के मुकाबले नवंबर माह के अंत तक लगभग 12 लाख कार्यदिवस सृजित किए जा चुके हैं। इनमें विकास खंड ऊना में 1.88 लाख, हरोली में 3.38 लाख, गगरेट में 1.33 लाख, बंगाणा में 3.32 और अंब में 1.75 लाख कार्य दिवस सृजित किए गए हैं। उन्होंने बताया कि जिला में मजदूरी और मैटिरियल के रुप में लोगों को लगभग 45 करोड़ रुपये का भुगतान किया गया है। उन्होंने बताया कि स्वच्छ भारत मिशन के तहत जिला के पांच स्थानों पर ठोस कचरा प्रबंधन संयंत्र स्थापित किए जा रहे हैं ताकि ठोस कचरे का सही और समुचित निष्पादन किया जा सके और लोगों को साफ-सुथरा परिवेश मिल सके।
राघव शर्मा ने कहा कि रोशनी योजना के तहत पंचायतों के गरीब से गरीब परिवारों की पहचान की जा रही है ताकि ऐसे परिवारों को विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं का लाभ मिल सके। इस योजना के तहत 245 पंचायतों में अब तक 184 परिवारों को संबंधित खंड विकास अधिकारियों जारी प्रमाणित करने के उपरांत 84 परिवारों को बीपीएल की सूची में शामिल कर लिया गया है और 38 परिवारों को पैंशन योजनाओं का लाभ दिया जा रहा है। उन्होंने बताया कि एक साल पांच काम योजना के तहत 1,222 कार्यों को शामिल और क्रियान्वित करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है, जिनमें से 414 कार्य आरंभ हो चुके हैं और शेष में आवश्यक औपचारिकताओं को पूर्ण किया जा रहा है।
डीसी ने कहा कि वित्त वर्ष के लिए 477 स्वयं सहायता समूहों के गठन के लक्ष्य के मुकाबले 62 प्रतिशत की उपलब्धि हासिल की जा चुकी है। पांचों विकास खंडों में 86 साप्ताहिक हिमईरा शॉप स्थापित करके अब तक 4.62 लाख रुपये की राशि अर्जित की गई है।
जिलाधीश ने बैठक में हिमकेयर योजना की समीक्षा करते हुए कहा कि जिला में 38,621 लाभार्थियों को हिमकेयर योजना के तहत पंजीकृत किया गया है जिनमें से अंब के 7345, बंगाणा के 5731, गगरेट के 4381, हरोली के 9072 और ऊना के 12092 लाभार्थी शामिल हैं। उन्होंने बताया कहा कि योजना के तहत 14,428 रोगियों का उपचार किया गया है, जिस पर 7.97 करोड़ रुपये की राशि खर्च की गई है। इसके अलावा आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत 24613 परिवारों को पंजीकृत किया गया। योजना के तहत 4428 रोगियों को 4.71 करोड़ की राशि से स्वास्थ्य लाभ प्रदान किया गया।
उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री ग्रामीण कौशल योजना के तहत 70 प्रशिक्षणार्थियों को 14 विभिन्न प्रकार के पाठ्यक्रमों का प्रशिक्षण दिया जा रहा है।
बैठक में प्रधानमंत्री किसान योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना, मुख्यमंत्री आदर्श ग्राम योजना, पंचवटी, ई-श्रम योजना और मुख्यमंत्री लोकभवन योजना की भी समीक्षा की गई।
डीसी ने अधिकारियों को सरकार की विभिन्न योजनाओं का लाभ प्रत्येक पात्र व्यक्ति तक पहुंचाने के लिए हर संभव प्रयास करने के निर्देश दिए। उन्होंने अधिकारियों को यह भी निर्देश दिए कि फील्ड में जाकर विकास कार्यों और योजनाओं का स्वयं निरीक्षण करें ताकि सरकार द्वारा निर्धारित मापदंडों के आधार पर पात्र व्यक्तियों को इन योजनाओं का समय पर लाभ मिल सके।
इस अवसर पर परियोजना अधिकारी डीआरडीए संजीव ठाकुर, जिला पंचायत अधिकारी श्रवण कुमार, श्रम अधिकारी प्रेम सिंह चम्बयाल, सभी बीडीओ, डॉ. अजय अत्री, जिला स्वास्थ्य समन्वयक दीपक चब्बा, जिला समन्वयक रवि कुमार सहित अन्य उपस्थित रहे।
सीएम ने निभाया वादा, ऊना विस क्षेत्र में लग रही 185 सौर ऊर्जा स्ट्रीट लाईटेंः सत्ती
ऊना, 7 दिसंबर: छठे राज्य वित्तायोग के अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती ने कहा कि मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के निर्देशानुसार ऊना विस क्षेत्र में 22.33 लाख रुपए की लागत से 185 सौर साइटें लगाई जा रही हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने 24 मार्च 2018 को अपने प्रवास के दौरान विभाग को विस क्षेत्र में सौर ऊर्जा संचालित स्ट्रीट लाइटें लगाने के निर्देश दिए थे। जिस पर विभाग ने अब तक 126 सौर ऊर्जा से संचालित स्ट्रीट लाईटें स्थापित कर दी हैं, जिस पर 15 लाख 21 हज़ार 450 रूपए की राशि व्यय की गई है।
सत्ती ने कहा कि ऊना विस के तहत ग्राम पंचायत जनकौर व बरसाड़ा में 30, सासन में 20, कुठार कलां में 20, कुठार खुर्द में 20, आबादा बराना में 20 व झूड़ोवाल में 16 सौर ऊर्जा स्ट्रीट लाईटें लगाई जा चुकी हैं। जबकि 59 और लाइटें लगाने का कार्य जारी है, जिसे जल्द ही पूरा कर लिया जाएगा। उन्होंने इस कार्य के लिए मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर का आभार व्यक्त किया।
छठे राज्य वित्तायोग के अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती ने कहा कि पिछले चार वर्षों में भाजपा सरकार बनने के बाद सैंकड़ों करोड़ रुपए के कार्य ऊना विस क्षेत्र में हुए, जिसका लाभ ऊना की जनता को मिल रहा है। ऊना में आधुनिक बस स्टैंड मौजूदा सरकार ने बनाकर जनता को समर्पित किया है और अब शहर में जल भराव की समस्या का स्थाई समाधान करने के लिए 22 करोड़ रुपए की परियोजना शिलान्यास भी मुख्यमंत्री ने कर दिया है। सतपाल सत्ती ने कहा कि आज अनेकों परियोजनाओं का कार्य अंतिम चरण में पहुंच गया है, जिनका आने वाले समय में उद्घाटन मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के कर कमलों से करवाया जाएगा।
आज जिला में 23 केंद्रों पर लगेगी कोविड वैक्सीन
ऊना, 7 दिसंबर: मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाॅ रमन कुमार शर्मा ने आज यहां जानकारी देते हुए बताया कि बुधवार 8 दिसंबर को जिला में 23 केन्द्रों पर कोविड वैक्सीनेशन के सत्र आयोजित किए जाएंगे। उन्होंने बताया कि सीएच अंब, सीएच चिंतपूर्णी, सीएच हरोली, सीएच गगरेट, सीएचसी दुलैहड़, सीएचसी धुसाड़ा, सीएचसी दौलतपुर चैक, सीएचसी बसदेहड़ा, सीएचसी भदसाली, पीएचसी मरबाड़ी, धर्मशाला महंतां, बढे़ड़ा राजपूतां, चलोला, बसोली, बाथड़ी, अम्लैहड़, देहलां, एससी कोटला खुर्द, पीएचसी चुरूडू, एचएससी चोबार, टाऊन हाॅल ऊना, मोबाईल टीम ईसपुर, खड्ड, पंडोगा व सीएच अंब पीडब्ल्यूआई में 18 प्लस को कोविड वैक्सीन का टीका लगाया जाएगा।