May 12, 2021

हिमाचल के किसान-मजदूर भी कृषि कानून के खिलाफ आंदोलन के समर्थन में; आज हड़ताल पर

हिमाचल के किसान-मजदूर भी कृषि कानून के खिलाफ आंदोलन के समर्थन में; आज हड़ताल पर

हिमाचल के किसान-मजदूर भी कृषि कानून के खिलाफ आंदोलन के समर्थन में; आज हड़ताल पर।  हिमाचल किसान सभा ने ऐलान किया है कि कृषि कानून को वापस नहीं लिया गया, तो इस आंदोलन को उग्र रूप दिया जाएगा। सीटू, हिमाचल किसान सभा, जनवादी महिला समिति, डीवाईएफआई, एसएफआई, दलित शोषण मुक्ति मंच ने अपनी मांगों व तीन कृषि कानून के खिलाफ दिल्ली में अपनी मांगों को लेकर आंदोलनरत किसानों के समर्थन में  है।

इन संगठनों ने केंद्र व हरियाणा सरकार द्वारा किए जा रहे किसानों के बर्बर दमन की कड़ी निंदा की है। साथ ही ऐलान किया है कि किसानों के आंदोलन के समर्थन में तीन दिसंबर को प्रदेश भर के मजदूरों, किसानों, महिलाओं, युवाओं, छात्रों व सामाजिक तथा आर्थिक रूप से पिछड़े तबकों द्वारा राज्यव्यापी प्रदर्शन कर किसानों के साथ एकजुटता प्रकट की जाएगी। किसान आंदोलन को दबाने से स्पष्टतः जाहिर हो चुका है कि ये दोनों सरकारें पूंजीपतियों के साथ हैं।