January 19, 2021

कोरोना की भ्रांतियों को दूर करने के लिए उपायुक्त का संदेश पहुंचेगा घर-घर

कोरोना की भ्रांतियों को दूर करने के लिए उपायुक्त का संदेश पहुंचेगा घर-घर

ऊना (28 नवंबर)- कोरोना वायरस से संबंधित भ्रांतियों को दूर करने के लिए उपायुक्त ऊना राघव शर्मा का संदेश जिला ऊना के घर-घर तक पहुंचाया जाएगा। इस संबंध में डीसी राघव शर्मा ने कहा कि समाज में कोरोना वायरस के संबंध में कई तरह की भ्रांतियां मौजूद हैं, इसलिए कुछ लोग कोरोना का टेस्ट कराने से भी कतराते हैं, जो घातक सिद्ध हो रहा है। लोगों के सामने वास्तविक स्थिति को रखने तथा भ्रांतियों को दूर करने के लिए आंगनबाड़ी व आशा कार्यकर्ता जिला ऊना के 1.20 लाख घरों में जाएंगे।जिलाधीश ने कहा कि कोरोना वायरस खतरनाक है तथा यह स्वस्थ व युवा व्यक्तियों की मौत का भी कारण बन रहा है। इसलिए यह सोचना कि वायरस से सिर्फ से बुजुर्ग व रोगों से ग्रसित लोगों की मौत हो रही है, पूर्ण रूप से गलत है। उन्होंने कहा कि जिलावासी वायरस की गंभीरता को समझें तथा कोविड नियमों का पालन करें। राघव शर्मा ने कहा कि हिम सुरक्षा अभियान के तहत जिला के घर-घर तक स्वास्थ्य टीमें सर्वेक्षण के लिए जा रही हैं, जो कोविड-19, तपेदिक, कुष्ठ रोग, मधुमेह और उच्च रक्तचाप की बीमारियों के विभिन्न लक्षणों वाले व्यक्तियों की जानकारी एकत्र कर रही हैं। यदि किसी व्यक्ति में ऐसा कोई लक्षण पाया जाता है, तो आगे की जांच के लिए नमूने भी एकत्र किए जा रहे हैं तथा अभियान के तहत सभी को मुफ्त उपचार की सुविधा भी प्रदान की जाएगी।उन्होंने कहा कि अगर किसी व्यक्ति को सर्दी, खांसी, बुखार, स्वाद या गंध की कमी, सांस लेने में कठिनाई आदि जैसे कोविड-19 के कोई लक्षण हैं, तो वे अपने घर पर आने वाले स्वास्थ्य कार्यकर्ता के साथ यह जानकारी साझा करें और अपनी जांच करवाएं। डीसी ने सभी जिलावासियों से इस अभियान की सफलता के लिए सही जानकारी साझा करने की अपील की है।