THE RSS ROADMAP FOR THE 21st CENTURY का विमोचन

Punjab
By Admin

ABVP के पूर्व राष्ट्रीय संगठन मंत्री सुनील अंबेडकर द्वारा लिखी गई किताब  

चंडीगढ़ : 14 फरवरी (     ), अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के पूर्व राष्ट्रीय संगठन मंत्री सुनील अंबेडकर द्वारा लिखी गई किताब THE RSS ROADMAP FOR THE 21st CENTURY का विमोचन लॉ भवन, चंडीगढ़ में किया गया, जिसमें मुख्य रूप पर माननीय सुनील अंबेडकर मौजूद रहे I इस अवसर पर अध्यक्षता चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी के चांसलर सतनाम सिंह संधू ने की I इस अवसर पर डाईरैक्टर हिदोस्तान कॉपर लिमिटड डॉ. सुभाष शर्मा, एडवोकेट पंकज जैन स्टैंडिंग कौसिल यु.टी., भाजपा अध्यक्ष अनिल सूद, पूर्व भाजपा अध्यक्ष संजय टंडन, संगठन महामंत्री ABVP नार्थ विक्रम खांडेवाल, पार्षद गुरप्रीत सिंह ढिल्लों, शिप्रा बांसल, संगठन मंत्री ABVP सौरभ कपूर, हीरा नेगी, पूर्व सदस्य मानवाधिकार संगठन, पंजाब बलजिंदर ठाकुर, प्रदेश मंत्री ABVP चिरान्शु रत्न, शिवम् गर्ग, राजन गोयल भी उपस्थित थे I

सुनील अंबेडकर ने इस अवसर पर राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के बारे में विस्तृत जानकारी देते हुए कहाकि आज भारत-वर्ष में करोड़ों लोग राष्ट्रिय स्वयं सेवक संघ के साथ जुड़े हुए हैं I सुनील ने कहाकि जो लोग संघ की शाखाओं में नहीं आते या जो लोग संघ के बारे में जानना चाहते हैं यह किताब उनके लिए प्रेरणा-स्त्रोत साबित हो सकती है I राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की स्थापना डॉ. केशव बलिराम हेडगेवार ने 1925 में दशहरे के दिन की थी और यह 90 साल पुराना संगठन है I संघ का मकसद पीछे रह कर समाज के लिए भलाई का कार्य करना है I

सुनील अंबेडकर ने कहाकि संघ में संगठनात्मक रूप से सबसे ऊपर सरसंघचालक का स्थान होता है जो पूरे संघ का दिशा-निर्देशन करते हैं । सरसंघचालक की नियुक्ति मनोनयन द्वारा होती है । प्रत्येक सरसंघचालक अपने उत्तराधिकारी की घोषणा करता है । संघ के ज्यादातर कार्यों का निष्पादन शाखा के माध्यम से ही होता है, जिसमें सार्वजनिक स्थानों पर सुबह या शाम के समय एक घंटे के लिये स्वयंसेवकों का परस्पर मिलन होता है । वर्तमान में पूरे भारत में संघ की लगभग पचपन हजार से ज्यादा शाखा लगती हैं । वस्तुत: शाखा ही तो संघ की बुनियाद है जिसके ऊपर आज यह इतना विशाल संगठन खड़ा हुआ है। शाखा की सामान्य गतिविधियों में खेल, योग, वन्दना और भारत एवं विश्व के सांस्कृतिक पहलुओं पर बौद्धिक चर्चा-परिचर्चा शामिल है । संघ का मकसद अपने इतिहास के बारे में जानकारी देना भी है क्यूंकि अगर इंसान अपने अतीत को भूल गया तो वो सब कुछ खत्म कर लेगा I संघ आज देश को संस्कृति और इतिहास से जोड़ने में मुख्य भूमिका निभा रहा है I

Leave a Reply