मिठाई छिपा कर ले जा रहे अखबारों के डिलिवरी वाले वाहन जब्त

Punjab
By Admin

चंडीगढ़, 16 अक्तूबर:

          नकली और ग़ैर- मानक मिठाईयों की बिक्री के विरुद्ध अपनी लड़ाई में फूड सेफ्टी टीमों द्वारा 2 विभिन्न छापेमारियों में अखबारों की डिलिवरी वाले 2 वाहन पकड़े गए, जो ग़ैर- मानक और मिलावटी मिठाईयों को छिपा कर ले जा रहे थे। यह जानकारी फूड और ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन कमिशनर, पंजाब श्री काहन सिंह पन्नू ने दी।

          प्रात:काल तकरीबन 4:30 बजे, पठानकोट की फूड सेफ्टी टीम द्वारा 150 किलो बूँदी दाना और 100 किलो बफऱ्ी ले जा रहा टाटा एस नामक व्हीकल पकड़ा गया। चालक ने खुलासा किया कि इस बूँदी दाने का संबंध इंद्रजीत कृष्ण लाल एंड सन्ज, गांधी कैंप जालंधर के साथ है और चालक द्वारा उक्त संबंधी चालान भी पेश किया गया परन्तु वह बफऱ्ी ले जाने संबंधी कोई भी सबूत पेश नहीं कर सका।

          इसी तरह एक अन्य छापे के दौरान इस टीम द्वारा दंगू रोड पर टाटा 407 व्हीकल पकड़ा गया जो 4.05 क्विंटल मिठाई अखबारों के स्टॉक के नीचे छिपा कर ले जा रहा था जिसका सम्बन्ध किशोर पेठा हाऊस, मुकेरियाँ के साथ बताया गया। इसके साथ ही जांच के दौरान इस व्हीकल में से लवली स्वीट्स, नकोदर रोड, जालंधर से संबंधित 1000 किलो मिठाई भी ज़ब्त की गई। मिठाईयों जैसे लड्डू, गुलाब-जामुन, बफऱ्ी और शक्रपारे के नमूने ले लिए गए हैं।

          टीमों की चौकसी की सराहना करते हुए श्री पन्नू ने कहा कि कमिश्नरेट का समूह स्टाफ तंदुरुस्त पंजाब मिशन की कामयाबी के लिए पूरे तन-मन, समर्पित भावना और ईमानदारी के साथ काम कर रहा है। उन्होंने कहा कि जब आम नागरिक अपने कमरों में आराम की नींद ले रहे होते हैं, फूड सेफ्टी टीमें उस समय भी अपनी ड्यूटी निभा रही होती हैं। उन्होंने कहा कि सुबह-सुबह की जाएँ वाली छापेमारियों में महिला अधिकारियों की स्वैच्छिक भागीदारी काबिले तारीफ़ है। उन्होंने कहा कि फूड सेफ्टी कमिशनरेट मिलावटखोरी की समस्या के ख़ात्मे के लिए वचनबद्ध है।

Leave a Reply