प्रशिक्षण केन्द्र खोलने के लिये सरकार देगी एक करोड़ तक की वित्तीय सहायता

Himachal Pradesh KANGRA
By Admin

राष्ट्रव्यापी ड्राइविंग ट्रेनिंग सेंटर योजना से सुरक्षित होंगी सड़कें : उपायुक्त

 

धर्मशाला, संजय शर्मा: उपायुक्त संदीप कुमार ने आज यहां जानकारी देते हुये बताया कि केंद्र सरकार ने देश व प्रदेश में सड़कों को सुरक्षित बनाने के लिये राष्ट्रव्यापी ड्राइविंग ट्रेनिंग सेंटर योजना शुरू की है। इस योजना के तहत सरकार ड्राइविंग कौशल और रोजगार को बढ़ाने पर ध्यान केंद्रित करेगी। इसके अलावा अत्याधुनिक तकनीकी के उपयोग कर ड्राइवरों को प्रशिक्षण भी प्रदान किया जाएगा। इस योजना के तहत एक मानक स्थापित कर ड्राइवर प्रशिक्षण पर भी नजर रखी जाएगी तथा परीक्षण कौशल के उद्देश्य से वैज्ञानिक प्रक्रिया के आधार पर ड्राइविंग लाइसेंस जारी किए जाएंगे।

संदीप कुमार ने बताया कि केन्द्र सरकार ड्राइविंग ट्रेनिंग सेंटर को खोलने के लिए परियोजना लागत का 50 प्रतिशत (अधिकतम 1 करोड़ तक) की वित्तीय सहायता प्रदान करेगी। इस योजना का उद्देश्य सड़कों और पर्यावरण सुरक्षा में सुधार के लिए व्यवसायिक वाहन चालकों को उच्च स्तर का प्रशिक्षण प्रदान करना है। योजना के तहत ड्राइविंग प्रशिक्षण केंद्र में भौतिक बुनियादी ढांचे जैसे भूमि, सिम्युलेटर पर प्रशिक्षण उपलब्ध करवाया जायेगा। इस योजना के तहत राष्ट्रीय कौशल योग्यता फ्रेमवर्क (एनएसक्यूएफ) के मानकों के अनुरूप कौशल प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा तथा ड्राईविंग लाईसेंस जारी करने से पहले सम्बन्धित आरटीओ ड्राइवर के कौशल का परीक्षण करने के लिए निकटतम प्रशिक्षण केन्द्र का उपयोग कर सकता है।
इच्छुक लोग केन्द्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय की वेबसाईट morth.nic.in पर जाकर रोड़ सेफ़्टी लिंक पर क्लिक कर अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।
.0.

Leave a Reply