लुधियाना शहर की कमाई में पिछले वर्ष की तुलना 1473 प्रतिशत हुई वृद्धि, 27.54 करोड़ रुपए का हुये टैंडर-नवजोत सिंह सिद्धू

Punjab
By Admin

राज्य के शहरों के लिए खज़़ाना साबित हुई नई आउटडोर विज्ञापन नीति-नवजोत सिंह सिद्धू

बाकी शहरों की आय में भी हुई अच्छी वृद्धि

स्थानीय निकाय मंत्री ने 167 शहरों में आउटडोर विज्ञापन के द्वारा 150 करोड़ से अधिक आय का लक्ष्य तय

बड़ी हुई आय संबंधित शहरों के विकास पर ही ख़र्च होगी- सिद्धू

चंडीगढ़, 12 जनवरी:

स्थानीय निकाय मंत्री स. नवजोत सिंह सिद्धू द्वारा शहरी स्थानीय इकाईयों को आर्थिक तौर पर आत्म-निर्भर करने और शहरों को एकसमान सुंदर रूप देने के लिए बनाई गई आउटडोर विज्ञापन नीति ने पहले ही वर्ष शहरों की आय में खासी बढ़ोतरी करने का रास्ता साफ कर दिया।

आज चंडीगढ़ में प्रैस कान्फ्ऱेंस के दौरान खुलासा करते स. सिद्धू ने कहा कि नगर निगम लुधियाना को नई नीति के द्वारा पिछले वर्ष के मुकाबले 1473 प्रतिशत आय में वृद्धि हुयी है। उन्होंने बताया कि नई नीति के उपरांत कल ही टैंडर खोला जिसके द्वारा नगर निगम लुधियाना को पहले वर्ष ही 27.54 करोड़ रुपए की कमाई होगी जबकि पिछले वर्ष नीति की अनुपस्थिति के कारण सिफऱ् यह कमाई 1.75 करोड़ रुपए हुई थी। अब यह वृद्धि 1473 प्रतिशत हो गयी है। इसके अलावा पिछली सरकार के 10 वर्षोंं के कार्यकाल के दौरान लुधियाना को कुल कमाई सिफऱ् 30 करोड़ रुपए था जबकि अब नये टैंडर से लुधियाना को आगामी 9 वर्षों में कुल 289 करोड़ रुपए की कमाई होगी जोकि पिछली सरकार से 800 प्रतिशत बढ़ोतरी है। इसी तरह औसतन 32 करोड़ रुपए वार्षिक कमाई होगी।

स. सिद्धू ने आगे बताया कि अकाली -भाजपा सरकार के कार्यकाल के दौरान 167 शहरों को आउटडोर विज्ञापन नीति के द्वारा 2015 -16 में सिफऱ् 11.97 कमाई हुई थी और हमारी सरकार के कार्यकाल के दौरान 2017 -18 में 32.50 करोड़ रुपए की कमाई हुई। उन्होंने कहा कि हालाँकि हमारी सरकार के दौरान तीन गुणा बढ़ोतरी हुई है परन्तु अभी भी इस क्षेत्र में बहुत सामथ्र्य होने के कारण यह कमाई कम थी। उन्होंने कहा कि इस आय को बढ़ाने के लिए हमारी सरकार द्वारा 21 मार्च 2018 को कारगार आउटडोर विज्ञापन नीति बनाई गई जिसके उपरांत शहरों की आर्थिक आत्म-निर्भरता के लिए रास्ता साफ हो गया।

स सिद्धू ने आगे बताया कि नई नीति के बाद नगर निगम मोगा की वार्षिक कमाई 30 लाख रुपए से बढ़ कर 1 करोड़ रुपए, पठानकोट की 20 लाख रुपए से बढ़ कर 67 लाख रुपए हो गई। इसी तरह अमृतसर और मोहाली की वार्षिक कमाई का लक्ष्य 20 -20 करोड़ रुपए वार्षिक निश्चित किया है और जालंधर की कम से -कम आरक्षित कीमत 18.15 करोड़ रुपए रखी है। उन्होंने कहा कि इस नीति के द्वारा सभी 167 शहरों में से आउटडोर विज्ञापन के द्वारा 150 करोड़ से अधिक आय का लक्ष्य निश्चित किया गया है। उन्होंने कहा कि यह बढ़ी हुई आय सम्बन्धित शहरों के विकास पर ही ख़र्च होगी जिससे सभी शहरी स्थानीय इकाईयां आर्थिक तौर पर आत्म निर्भर हो जाएंगी। स सिद्धू ने नई नीति को सफलतापूर्वक लागू करने के लिए विभाग के अधिकारियों को मुबारकबाद दी।

इस अवसर परविभाग के प्रमुख सचिव श्री ए वेनू प्रसाद, पी.एम.आई.डी.सी के सीईओ श्री अजोए शर्मा, नगर निगम लुधियाना के संयुक्त कमिशनर श्री कुलप्रीत सिंह और स. सिद्धू के सलाहकार श्री अंगद सिंह सोही भी उपस्थित थे।

Leave a Reply