जन सक्वपर्क एवं भाषा विभाग में अनुबंध आधार पर काम करने वाले सदस्यों को समान काम समान वेतन के सिद्धांत के अनुरूप उनके समकक्ष पक्के कर्मचारियों के समान दिया जाएगा वेतन

Haryana
By Admin

चण्डीगढ़, 27 जुलाई – हरियाणा सूचना, जन सक्वपर्क एवं भाषा विभाग में अनुबंध आधार पर काम करने वाले भजन पार्टी के लीडरों व सदस्यों को समान काम समान वेतन के सिद्धांत के अनुरूप उनके समकक्ष पक्के कर्मचारियों के समान वेतन दिया जाएगा।

        यह जानकारी आज मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार राजीव जैन ने सूचना एवं जनसक्वपर्क विभाग के अधिकारियों की मासिक बैठक के दौरान दी। इस बैठक में विभाग के महानिदेशक समीर पाल सरो ने बताया कि विभाग द्वारा अक्तूबर माह में प्रदेश सरकार के चार साल पूरे होने पर व्यापक स्तर पर प्रचार अभियान चलाने के लिए कार्ययोजना तैयार की जा रही है। प्रचार के लिए जिला, उपमंडल व खंड स्तर पर विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। प्रचार अभियान के लिए फिल्मों के अलावा जिंगल्स, होर्डिंग्स व ऑडियो-विजुअल माध्यमों का इस्तेमाल किया जाएगा।

 जैन ने बताया कि अब इन कर्मचारियों की कम वेतन मिलने की शिकायत दूर हो गई है इसलिए विभाग के अधिकारी इनसे पक्के कर्मचारियों के समान कार्य लें ताकि सरकारी नीतियों के प्रचार-प्रसार का काम तेज गति से हो सके। उन्होंने कहा कि विभाग में अधिकारियों व कर्मचारियों की कमी दूर करने के लिए जल्द ही पदोन्नति व भर्तियां की जाएंगी।

 जैन ने कहा कि हरियाणा की फिल्म पॉलिसी का ड्राफ्ट तैयार कर लिया गया है जिसे अगस्त माह में होने वाली केबिनेट की मीटिंग में रखा जाएगा। अगले माह ही इसे किसी एक जिले से विधिवत रूप से लॉन्च किया जाएगा। उन्होंने कहा कि हरियाणवी फिल्मों व प्रदेश में फिल्म व्यवसाय को बढ़ावा देने के लिए लंबे समय से की जा रही मांग को गंभीरता से लेते हुए मुख्यमंत्री के विशेष निर्देश पर प्रदेश की फिल्म पॉलिसी का ड्राफ्ट तैयार कर लिया गया है। इसे अगस्त माह में आयोजित होने वाली केबिनेट मीटिंग में पास होने के लिए रखा जाएगा तथा वेबसाइट पर भी डाला जाएगा ताकि हर व्यक्ति इसे पढ़ सके।

        जनसंपर्क विभाग के महानिदेशक समीर पाल सरो ने कहा कि लोगों को दिखाने के लिए विभाग द्वारा 25 फिल्में बनवाई गई हैं और अगले माह तक 50 फिल्में तैयार करवा ली जाएंगी। सभी डीआईपीआरओ अपनी लाइब्रेरी में ये फिल्में संग्रहित करके रखें और समय-समय पर गांवों में जाकर दिखाएं। प्रचार-प्रसार के लिए प्रदेश व जिला स्तर पर बुकलेट तैयार करवाई जा रही हैं।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने सभी मंत्रियों व अतिरिक्त मुख्य सचिव के अलावा सभी जिलों के उपायुक्तों को नियमित रूप से प्रेस कॉन्फ्रेंस करने के निर्देश जारी किए हैं। इनके अलावा सभी डीआईपीआरओ भी प्रत्येक माह कम से कम एक गांव में जाकर रात्रि कार्यक्रम करेंगे और आमजन को सरकारी योजनाओं की जानकारी देंगे। इसके लिए वे स्थानीय स्तर के अधिकारियों-कर्मचारियों का भी सहयोग लें। उन्होंने कहा कि ग्रामीणों को फसलों के अवशेष न जलाने के लिए प्रेरित करने तथा बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ और स्वच्छता जैसे विषयों पर जागरूक करने की ओर विशेष ध्यान दिया जाए। गांव में जाकर लोगों से संपर्क स्थापित किया जाए और उनकी अच्छी व बुरी, दोनों प्रकार की फीडबैक चंडीगढ़ मुख्यालय भिजवाई जाए।

        उन्होंने कहा कि प्रदेश में विभाग के 976 बड़े होर्डिंग्स हैं जिन्हें सरकारी योजनाओं के प्रचार के लिए इस्तेमाल किया जाता है। यदि कोई प्राइवेट व्यक्ति, कंपनी या फर्म अपने फलेक्स सरकारी होर्डिंग्स पर लगाएगा तो उसके खिलाफ पुलिस कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने बताया कि इन सभी होर्डिंग्स की मरम्मत व पेंट आदि के लिए पीडब्ल्यूडी बीएंडआर को 64 लाख रुपये दिए गए हैं। सभी डीआईपीआरओ अपने-अपने जिलों में होर्डिंग्स की मरम्मत व रखरखाव के संबंध में रिपोर्ट चंडीगढ़ भिजवाएं।

विभाग के संयुक्त निदेशक सुधांशु गौतम ने कहा कि जनसंपर्क विभाग इस समय बहुत अच्छा कार्य कर रहा है और मुख्यमंत्री व प्रदेश सरकार की अपेक्षाओं के अनुरूप भविष्य में और अधिक मेहनत के साथ कार्य किया जाएगा। उन्होंने सभी डीआईपीआरओ को सरकार, प्रशासन, मीडिया व आम जनता के बीच बेहतर समन्वय बनाने के संबंध में विशेष दिशा-निर्देश जारी किए और विभाग के विभिन्न कार्यों की समीक्षा भी की।

उन्होंने पत्रकारों के एक्रीडेशन, पोस्टर वितरण, अकाउंट सेक्शन, विज्ञापन शाखा, मीडिया सेंटर की मेंटेनेस, नाकारात्मक खबरों पर विभाग द्वारा की जाने वाली कार्रवाई की रिपोर्ट भिजवाने, सोशल मीडिया के इस्तेमाल, सक्सेस स्टोरी, ई-वेस्ट पोलिसी, कोर्ट केस की मजबूत पैरवी, भजन पार्टियों की चेकिंग सहित अन्य विभागीय कार्यों के संबंध में व्यापक समीक्षा की और इनके बारे में विभाग के अधिकारियों को जरूरी दिशा-निदेश दिए।

बैठक में पिछले माह गुडग़ांव में मुख्यमंत्री मनोहर लाल की अध्यक्षता में हुई समीक्षा बैठक में दिए गए निर्देशों की अनुपालना हेतु डीआईपीआरओ द्वारा की गई कार्रवाई की भी जानकारी ली गई।

बैठक में विभाग के महानिदेशक समीर पाल सरो, संयुक्त निदेशक सुधांशु गौतम व संयुक्त निदेशक डॉ. कुलदीप सैनी सहित उच्चाधिकारी व सभी जिलों के डीआईपीआरओ भी मौजूद थे। इस अवसर पर संयुक्त निदेशक राज पन्नु, डॉ. वेद प्रकाश, उपनिदेशक अनिता दत्ता, नीरजा भल्ला, डॉ. साहिब गोदारा, रणबीर सिंह सांगवान, सतीश मेहरा, जगदीप दुहन सहित सभी जिलों के डीआईपीआरओ भी मौजूद थे।

Leave a Reply