कैप्टन अमरिन्दर सिंह द्वारा भाजपा मुक्त भारत का न्योता

Punjab REGIONAL
By Admin
केंद्र में आगे आने वाली सरकार यू.पी.ए.-3 की बनेगी
पटियाला बार एसोसिएशन और डेरा बस्सी के लोगों के साथ चुनाव के बाद में माँगों को हल करने का वादा
पटियाला /डेरा बस्सी, 16 मई:
देश की एकता और भविष्य की सुरक्षा के लिए भाजपा मुक्त भारत का न्योता देते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने भरोसा प्रकट किया है कि देश की धर्म निरपेक्ष धागों को बचाने और इसको विकास के मार्ग पर ले जाने के लिए यू.पी.ए.-3 सरकार देश की बागडोर सँभालेगी।
पटियाला जुडीशरी कंपलैक्स में पटियाला जि़ला बार एसोसिएशन और डेरा बस्सी में एक सार्वजनिक रैली को संबोधित करने के अलावा विभिन्न स्थानों पर अनौपचारिक बातचीत के दौरान यह विचार प्रकट किये।
बार एसोसिएशन ने पटियाला से कांग्रेस के उम्मीदवार परनीत कौर को भरपूर समर्थन देने का ऐलान किया। उन्होंने जुडिशियल क ंपलैक्स के विकास के लिए मुख्यमंत्री का धन्यवाद भी किया जिसमें नये चेंबर बनाने के अलावा वकीलों के लिए सहूलतें भी मुहैया करवाई गई हैं। एसोसिएशन के प्रधान जतिन्दरपाल सिंह घुम्मण और वी.पी. शिवम शर्मा ने कहा कि कैप्टन अमरिन्दर सिंह और परनीत कौर हमारे परिवार की तरह हैं जिन्होंने बार एसोसिएशन और पटियाला के लोगों के लिए बहुत कुछ किया है जबकि पिछली सरकार ने इसको पूरी तरह अनदेखा रखा।
पहला बार एसोसिएशन और बाद में सार्वजनिक रैली को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत की धर्म निरपेक्षता को बड़ी चोट पहुँचाई है जो कि भारत की मज़बूत छवी को कमज़ोर करती है। उन्होंने कहा कि यह धर्म निरपेक्षता अब भारी खतरे में है। उन्होंने कहा कि देश इस समय गंभीर वक्त में से गुजऱ रहा है जिस कारण देश और लोगों के भविष्य के हित में इसमें परिवर्तन लाने की ज़रूरत है। उन्होंने कहा कि देश को विकास चाहिए न कि समाज में फूट डालना।
कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने संकुचित राजनैतिक हितों के लिए लोगों का ध्रुवीकरण करने के लिए धर्म की राजनीति खेलने वाले अकालियों पर बरसते हुए दोष लगाया इन्होंने 10 सालों में राज्य का भ_ा बिठा दिया जैसे कि भाजपा ने पाँच सालों में मुल्क का बेड़ा डुबाकर रख दिया। उन्होंने कहा कि अकालियों के शासनकाल के दौरान बेअदबी की एक के बाद एक घटना यह सिद्ध करती है कि यह लोग धर्म के नाम पर राजनीति करने के लिए किस हद तक जा सकते हैं। उन्होंने अकालियों द्वारा बरगाड़ी और बेअदबी की अन्य घटनाओं के द्वारा भाईचारों में बाँटें डालने की की कोशिशों की सख्त आलोचना की।
इसके बाद पत्रकारों के साथ बातचीत करते हुए मुख्यमंत्री ने मोदी ने फिरकूपुने को हवा देकर मुल्क को तोडऩे की सोच पाली हुई है जबकि लोग इसके पूरी तरह खि़लाफ़ हैं। उन्होंने कहा कि यह समय भारत को भाजपा मुक्त करने का है। उन्होंने कहा कि भाजपा अपनी राजनैतिक सफलता की चोटी पर पहुँच चुकी है और अब उलटे-मुँह गिरने लगी है। उन्होंने कहा कि उतार-चढाव लोकतांत्रिक राजनीति का हिस्सा हैं और कुछ समय कांग्रेस भी पिछड़ी रही है परन्तु अब सफलता की सीढिय़ाँ चढ़ रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि मुल्क में सत्ता तबदीली के लिए लोगों की इच्छा मुताबिक यू.पी.ए.-3 उभर कर सामने आएगा।
गुरदासपुर में चुनाव मुकाबले संबंधी पूछे जाने पर मुख्यमंत्री ने कहा कि वहां सुनील जाखड़ नहीं बल्कि सनी देओल पूरी तरह पिछडऩे की स्थिति में है। उन्होंने कहा कि इस हलके में भाजपा को कोई स्थानीय उम्मीदवार नहीं मिला जिस कारण बोखलाहट में आकर सनी देओल को मैदान में उतारने का फ़ैसला लिया।
एक अन्य सवाल के जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा कि चण्डीगढ़ पंजाब का था और पंजाब का ही रहेगा और हरियाणा द्वारा अपने पैसों से अलग राजधानी के लिए शहर का निर्माण किया जा सकता है।
मुख्यमंत्री ने रक्षा बलों के ध्रुवीकरण के लिए मोदी सरकार की तीखी आलोचना की। उन्होंने कहा कि यह फोर्स हमेशा ही निष्पक्ष रही हैं और इनका चरित्र धर्म निरपेक्ष रहा है।
इससे पहले डेरा बस्सी में मुख्यमंत्री ने कहा कि किसी भी प्रधानमंत्री ने सरहद पर दुश्मनों के साथ लडऩे का सेहरा अपने सिर नहीं बांधा जैसा कि मोदी ने किया है। उन्होंने कहा कि थल और हवाई सेनाओं की प्राप्तियों पर पंजाब को गर्व है परन्तु पंजाब सरहदी राज्य होने के कारण जंग नहीं चाहता। जंग लगने की सूरत में पंजाब को ही सबसे अधिक नुक्सान उठाना पड़ सकता है।
पटियाला बार और डेरा बस्सी में संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि वह लोगों को पेश समस्याओं संबंधी पूरी तरह अवगत हैं परन्तु चुनाव आचार संहिता के मद्देनजऱ वह राहत कदमों संबंधी कुछ भी ऐलान नहीं कर सकते। उन्होंने बार एसोसिएशन और डेरा बस्सी के लोगों को भरोसा दिलाया कि उनकी सभी समस्याओं का हल किया जायेगा।
पंजाब में पिछली सरकार के दुरप्रबंध का जि़क्र करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार वित्तीय संकटों का सामना कर रही है। यहाँ तक कि इससे राज्य के लोगों को भी संकट का सामना करना पड़ रहा है। बेरोजग़ारी और आर्थिक समस्याओं के लिए ओद्योगीकरण को एक मात्र हल बताते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार पटियाला को उद्योग का केंद्र बनाऐगी और पटियाला के नौजवानों के लिए एक लाख नौकरियाँ पैदा करेगी।
किसानों की आत्महत्याओं पर गंभीर चिंता प्रकट करते हुए कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा कि लोकसभा मतदान के लिए कांग्रेस पार्टी ने अपने चुनाव मनोरथ पत्र में स्वामीनाथन कमेटी की रिपोर्ट को पूरी तरह लागू करने का वादा किया है जो कि किसानों की समस्याओं के स्थायी हल का एकमात्र रास्ता है। उन्होंने कहा कि इसके बावजूद उनकी सरकार ने खेती कजऱ् माफी स्कीम के द्वारा किसानों को राहत देने की कोशिश की है।
नोटबन्दी और जी.एस.टी से देश की आर्थिकता को तबाह करने के लिए मोदी सरकार की तीखी आलोचना करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि इससे उस समय पंजाब को बड़ी समस्याओं का सामना करना पड़ा और उनकी सरकार को वेतन देने में भी देरी करनी पड़ी।
देश के भविष्य के लिए यह मतदान फ़ैसलाकुन्न होने का जि़क्र करते हुए परनीत कौर ने भी भारत की धर्म निरपेक्षता की मज़बूती पर ज़ोर दिया। उन्होंने कहा कि लोग फूट डालने वाली सरकार नहीं चाहते। मोदी अपने कार्यों के आधार पर लोगों को वोट डालने के लिए नहीं कह रहा बल्कि वह शहीद फौजियों के नाम पर वोट माँग रहा है। उन्होंने वोट डालने के लिए लोगों को अपने दिल की आवाज़ सुनने की अपील की और ऐसा करते हुए देश एवं अपने हितों को ध्यान में रखने के लिए कहा।
उन्होंने डेरा बस्सी के लोगों को भरोसा दिलाया कि इस क्षेत्र के सभी लम्बित पड़े विकास कार्य अगले तीन सालों में मुकम्मल हो जाएंगे।
परनीत कौर ने राहुल गांधी के नेतृत्व वाली कांग्रेस पार्टी के विभिन्न वादों का भी जि़क्र किया और उन्होंने लोगों को भरोसा दिलाया कि इन सभी वादों को पूरा किया जायेगा।

Leave a Reply