Day: December 21, 2017

दिल्ली से डेपुटेशन पर आए डीएसपी को वापस उनके गृह राज्य  अब भेजा वापस

चंडीगढ़, 21 दिसंबर  दिल्ली से डेपुटेशन पर आए डीएसपीज को वापस उनके गृह राज्य वापस भेज दिया गया है। काफी समय से लग रही अटकलों के बाद वीरवार
Read More

पंजाब कांग्रेस द्वारा शहीदी जोड़ मेले के अवसर पर राजनीतिक कान्फ्रेंस न करने का फैसला

अन्य राजनीतिक दलों को भी यही रास्ता अपनाने का आग्रह चंडीगढ़, 21 दिसंबर: आम लोगों की भावनाओं का सम्मान करते हुये और इस दिवस की पवित्रता को मुख्य रखते हुये पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने फतेहगढ़ साहिब में शहीदी जोड़ मेले के दौरान राजनीतिक कान्फ्रेंस न करने का फ़ैसला लिया गया है। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने आज सुबह सांसद और पंजाब कांग्रेस के प्रधान सुनील जाखड़ के साथ इस मामले पर विचार-विमर्श करने के बाद यह फ़ैसला लिया। पंजाब कांग्रेस के प्रवक्ता ने बताया कि मुख्यमंत्री ने यह महसूस किया कि सिखों के दशम पातशाह गुरू गोबिंद सिंह जी के छोटे साहिबज़ादे बाबा जोरावर सिंह और बाबा फतेह सिंह जी और माता गुजरी जी की अतुल्य शहादत कोबहुत ही श्रद्धा और सम्मान से मनाना चाहिए। मुख्यमंत्री ने यह भी महसूस किया कि महान बलिदानों से सींची फतेहगढ़ साहिब की पवित्र धरती पर इस मौके को राजनीतिक लाभ लेने के लिए अपने निजी हितों के ख़ातिर प्रयोगनहीं किया जाना चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि फतेहगढ़ साहिब में दशम पातशाह गुरू साहिब जी के छोटे साहिबज़ादे और उनकी माता जी की बेमिसाल बलिदान को सजदा करने के लिए शहीदी जोड़ मेला सदियों से होता आ रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा किलोग यह महसूस करते हैं कि यह पवित्र मौका राजनीतिक दलों द्वारा लाभ अर्जित करने का मंच बनकर उभर रहा है। कैप्टन अमरिंदर सिंह औरजाखड़ ने लोगों को विशेषकर राजनीतिक नेताओं से अपील की कि वह राजनीतिक कान्फ्रेंस या रैलियां करने की बजाय गुरुद्वारा श्री फतेहगढ़ साहिब के पवित्र स्थान पर जा कर नम्र श्रद्धालुओं के तौरपर महान शहीदों को अपनी श्रद्धासुमन अर्पित करें। जाखड़ ने कहा कि, ‘‘हम सभी राजनीतिक दलों को इस पवित्र अवसर पर राजनीतिक कान्फ्रेंस करने से परहेज करने की अपील करते हैं।’’ इससे पहले फतेहगढ़ साहिब के विधायक कुलजीत सिंह नागरा ने मुख्यमंत्री से मुलाकात करके उनको आम लोगों की भावना से अवगत् करवाया जो शहीदी जोड़ मेले के अवसर पर राजनीतिक कान्फ्रेंसों का विरोध कर रहे हैं। जाखड़ ने कहा कि पार्टी का यह फ़ैसला भी कैप्टन अमरिंदर सिंह द्वारा अपने पहले मुख्यमंत्री के कार्यकाल के दौरान फतेहगढ़ साहिब में शहीदी जोड़ मेले की पवित्रता को बहाल करने के लिए उठाये कदमों के तर्ज पर ही लियागया है जिनमें लंगर लगाने की उचित व्यवस्था कायम करने, मिठाईयों पर रोक, मनोरंजक खेल और जुऐ पर पाबंदी आदि शामिल हैं। इसी दौरान पंजाब कांग्रेस के प्रधान ने मुख्यमंत्री से अपील की कि 25 से 27 दिसंबर तक होने वाले शहीदी जोड़ मेले के दौरान अमन-कानून की व्यवस्था को यकीनी बनाने के लिए ज़रुरी कदम उठाने के लिए डी.जी.पी को निर्देशदिये जाये जिससे इस जोड़ मेले के दौरान फतेहगढ़ साहिब की पवित्र धरती पर देश-विदेश से सजदा करने के लिए आने वाली लाखों की संख्या में संगत को कोई मुश्किल पेश न आए।
Read More

CONGRESS MPS FROM PUNJAB RAISES ISSUE OF FORCED CONVERSION OF SIKHS IN PAKISTAN WITH SUSHMA SWARAJ  Chandigarh, Dec 21             A delegation of Congress Members of Parliament from Punjab led
Read More

सुच्चा सिंह लंगाह ने हाईकोर्ट से मांगी जमानत, कल होगी सुनवाई 

बलात्कार मामले के आरोपी अकाली नेता सुच्चा सिंह लंगाह ने अपनी जमानत की मांग को लेकर हाईकोर्ट में अर्जी दायर कर की हैl इस अर्जी पर हाईकोर्ट शुक्रवार
Read More

ਸ਼੍ਰੀ ਅਕਾਲ ਤਖਤ ਸਾਹਿਬ ਦੇ ਆਦੇਸ਼ ਨੂੰ ਮੰਨਦੇ ਹੋਏ ਸ਼੍ਰੋਮਣੀ ਅਕਾਲੀ ਦਲ ਵੱਲੋਂ 26 ਦਸੰਬਰ ਦੀ ਕਾਨਫਰੰਸ ਰੱਦ

ਚੰਡੀਗੜ• 21 ਦਸੰਬਰ — ਸ਼੍ਰੋਮਣੀ ਅਕਾਲੀ ਦਲ ਦੇ ਪ੍ਰਧਾਨ  ਸੁਖਬੀਰ ਸਿੰਘ ਬਾਦਲ ਨੇ ਐਲਾਨ ਕੀਤਾ ਕਿ ਸ਼੍ਰੀ ਅਕਾਲ ਤਖਤ ਸਾਹਿਬ ਦੇ ਜਥੇਦਾਰ ਸਿੰਘ ਸਾਹਿਬ ਗਿਆਨੀ ਗੁਰਬਚਨ ਸਿੰਘ ਦੇ
Read More