शिक्षा विभाग द्वारा इन-सर्विस प्रशिक्षण केन्द्रों के 28 सीनियर लैक्चरारों को प्रिंसिपल लगाने का निर्णय

re
By Admin

 

मौजूदा स्टाफ का सुचारू ढंग से प्रयोग किया जाएगा:अरूना चौधरी

चंडीगढ़, 27 जुलाई:

शिक्षा विभाग द्वारा अतिरिक्त पदों पर बैठे अधिकारियों को आवश्यक रिक्त पड़े पदों पर तैनात करने की मुहिम तहत 11 सरकारी इन-सर्विस सिखलाई केन्द्रों के 28 सीनियर लैक्चरारों को सरकारी सीनियर सिखलाई केन्द्रों में रिक्त पदों पर तैनात करने का निर्णय किया गया है। यह जानकारी पंजाब के शिक्षा मंत्री श्रीमती अरूना चौधरी ने आज यहां जारी प्रैस बयान द्वारा दी।

शिक्षा मंत्री ने कहा कि सरकारी इन-सर्विस प्रशिक्षण केन्द्रों में सीनियर लैक्चरार के तौर पर कार्य कर रहे पी.ई. एस. अधिकारियेां के पास इस समय कोई भी काम नहीं है क्यों कि प्रशिक्षण का कार्य डाइटों में पहले ही चल रहा है। उन्होंने कहा कि राज्य में कई सरकारी सीनियर सैकंडरी स्कूल बिना प्रिंसिपलों के चल रहे हैं। उन्होंने आगे कहा कि 28 सीनियर लैक्चरारों क ो खाली स्कूलों में लगाने का फैसला किया गया है। उन्होंने ब्यौरा देते हुये बताया कि अमृतसर में 4, बठिंडा, जालंधर, लुधियाना व पटियाला में 3-3 व फरीदकोट, गुरदासपुर, होशियारपुर कपूरथला, रोपड़ और संगरूर में 2-2 सीनियर लैक्चरारों को स्कूलों में प्रिंसिपल के तौर पर तैनात किया जाएगा।

श्रीमती चौधरी ने बताया कि इन 28 सीनियर लैक्चरारों को रिक्त पदों तहत इनकी इच्छानुसार लगाया जाएगा ताकि स्कूलों का कार्य ओर बढिय़ा ढंग से चल सके। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की अगुवाई तहत पंजाब सरकार जहां विद्यार्थियों को गुणात्मक शिक्षा देने के लिए वचनबद्ध है वहीं मौजूदा स्टाफ का सुचारू ढंग से प्रयोग करते हुए अतिरिक्त पदों पर काम करते अधिकारियों/कर्मचारियों को रिक्त पदों पर लगाने के लिए भी वचनबद्ध है।