भारतीय सेना की वीरता व कार्यकुशलता का प्रतीक सर्जिकल स्ट्राईकः मुख्यमंत्री

Himachal Pradesh
By Admin
भारतीय सेना द्वारा पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में दो वर्ष पूर्व आतंकियों के ठिकानों पर की गई सर्जिकल स्ट्राईक विश्व में भारतीय सेना बल की वीरता व कार्यकुशलता को प्रदर्शित करती है।
मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर आज यहां रिज़ मैदान पर राज्य स्तरीय सर्जिकल स्ट्राईक दिवस समारोह ‘पराक्रम पर्व’ की अध्यक्षता करते हुए सम्बोधित कर रहे थे।
मुख्यमंत्री ने कहा कि सर्जिकल स्ट्राईक की कार्यवाही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा लिए गए दृढ़ निर्णय के कारण ही संभव हो पाई है। उन्होंने कहा कि भारत वर्तमान में दृढ़ राजनैतिक नेतृत्व के कारण पिछले कुछ वर्षों में विश्व में एक मजबूत आर्थिक व सेना शक्ति के रूप में उभरा है।
जय राम ठाकुर ने सेना बलों द्वारा शांति के समय विशेषकर आपदाओं के दौरान बचाव आप्रेशनों में निभाई गई भूमिका की भी सराहना की।
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में कुछ जिलों में भारी बर्फवारी में सुरक्षा बलों के त्वरित व कुशल कार्य संचालन के कारण 3000 से अधिक बहुमूल्य जानें बचाई गईं। उन्होंने कहा कि सुरक्षा बलों द्वारा लाहौल-स्पिति तथा कुल्लू में भारी बर्फवारी में फंसे लगभग 250 पर्यटकों को हैलीकॉप्टर की सहायता से सुरक्षित निकाला गया।
जय राम ठाकुर ने कहा कि देश की प्रगति व विकास केवल तभी संभव है, जब राष्ट्र की सीमाएं सुरक्षित हो।
उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार सेवारत सैनिकों, पूर्व सैनिकों व युद्ध विधवाओं के कल्याण के लिए वचनबद्ध है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने नॉन पेंशनर पूर्व सैनिकों और उनकी विधवाओं की मासिक पेंशन को 500 रुपये से बढ़ाकर 3000 रुपये प्रतिमाह किया है।
मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर शौर्य पुरस्कार विजेताओं व युद्ध विधवाओं को भी सम्मानित किया।
मुख्यमंत्री ने सेना द्वारा लगाई गई हथियारों की प्रदर्शनी का भी दौरा किया, जिसमें राइफल, मशीनगन व मोटार्ज प्रदर्शित किए गए थे। उन्होंने सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के फील्ड आउटरिच ब्यूरों द्वारा लगाई गई प्रदर्शनी का भी अवलोकन किया।
शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज ने भारतीय सेना के वीर जवानों की वीरता के इतिहास व सर्जिकल स्ट्राइक पर रोशनी डाली।
लोक सभा के सदस्य वीरेन्द्र कश्यप ने कहा कि वर्तमान कुशल राजनीतिक नेतृत्व की दृढ़ इच्छाशक्ति के चलते भारतीय सैनिकों ने वीरता से पड़ौसी देश के नापाक इरादों का मुंहतोड़ जबाव दिया।
कर्नल कर्मवीर सिंह पंवर तथा मेजर महावीर ने पाक अधिकृत कश्मीर में सेना द्वारा की गई सर्जिकल स्ट्राइक पर प्रस्तुति दी।
एवीएसएम आरट्रेक के प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल राजीव सिरोही, नगर निगम शिमला की महापौर कुसुम सदरेट, उप महापौर राकेश शर्मा, अतिरिक्त मुख्य सचिव बी.के. अग्रवाल, अतिरिक्त मुख्य सचिव एवं मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव डॉ. श्रीकांत बाल्दी, मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव संजय कुंडू, उपायुक्त अमित कश्यप, सूचना एवं जन सम्पर्क निदेशक अनुपम कश्यप, पुलिस अधीक्षक ओमपति जम्वाल, भाजपा के वरिष्ठ नेता गणेश दत्त व अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी इस अवसर पर उपस्थित थे।
इसके पश्चात, मुख्यमंत्री ने जीर्णांद्धार किए जा रहे टाउन हाल शिमला का दौरा कर सम्बन्धित अधिकारियों को आवश्यक सुधार करने के निर्देश दिए।

 

Leave a Reply