प्रदेश को भ्रष्टाचार मुक्त बनाने के लिए वर्तमान सरकार कर रही हर संभव प्रयत्न – मनोहर लाल खट्टर

Haryana
By Admin

चण्डीगढ़, 13  अक्तूबर – हरियाणा के मुख्यमंत्री  मनोहर लाल ने कहा कि प्रदेश को भ्रष्टाचार मुक्त बनाने के लिए वर्तमान सरकार हर संभव प्रयत्न कर रही है। लोगों को चाहिए कि वे नौकरियों के लिए नेताओं के चक्कर न काटे बल्कि अपने बच्चों को बेहतरीन शिक्षा दिलवाएं। वे आज जींद जिला के तीर्थ स्थलों का दौरा कर रहे थे। यह बात उन्होंने बराह तीर्थ पर पूजा अर्चना करने के बाद वहां इक्कठ्ठे हुए हजारों लोगों को सम्बोधित करते हुए कही।

        मुख्यमंत्री ने कहा कि कुरूक्षेत्र की 48 कोस की परिधि में 134 तीर्थ स्थल आते है, इन सभी तीर्थ स्थलों का जीर्णोद्धार करवाया जाएगा।  29 तीर्थो के जीर्णोद्धार का कार्य शुरू हो चुका है और शेष तीर्थो के विकास कार्य का काम भी जल्द शुरू हो जाएगा। उन्होंने इस दौरान ग्राम पंचायत द्वारा रखी गई सभी मांगों को पूरा करवाने का आश्वासन दिया और तीर्थ के विकास के लिए एक करोड़ रूपए की धनराशि देने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि इस राशि से तीर्थ स्थलों के सरोवरों का उद्धार, शैडो का निर्माण शौचालयों का निर्माण इत्यादि अनेक विकास कार्य करवाए जाएगें। सरकार द्वारा प्रदेश के तालाबों के सुधार के लिए तालाब प्राधिकरण का गठन भी कर दिया गया है। प्राधिकरण द्वारा तीर्थ स्थलों के तालाबों का भी उद्धार करवाया जाएगा। इन तालाबों में स्वच्छ पेयजल उपलब्ध होगा और हर साल तालाबों से गंदे पानी की निकासी होगी और स्वच्छ पानी भरा जाएगा।

        मुख्यमंत्री ने पुष्कर तीर्थ पोकर खेड़ी स्थल के विकास के लिए 2 करोड़, अश्विन तीर्थ आसन के लिए 2 करोड 24 लाख, सोमतीर्थ पांडू पिण्डारा के लिए 2 करोड़, वंश मूलक तीर्थ बरसोला के लिए 2 करोड़ , ईक्कस स्थित तीर्थ के लिए एक करोड़, रामह्दय तीर्थ रामराए के लिए 2 करोड़ 63 लाख, भूतेश्वर तीर्थ जींद के लिए 2 करोड़ रूपए की राशि देने की घोषणा की। मुख्यमंत्री जिन गांवों में गए वहां लोगों द्वारा उनका फूल मालाओं से जोरदार स्वागत किया गया।

पुष्कर तीर्थ पोकरी खेड़ी में स्थापित कपिल यक्ष की प्रतिमा का किया अवलोकन: मुख्यमंत्री ने पुष्कर तीर्थ पर बनी कपिल यक्ष की प्रतिमा का अवलोकन किया । गौरतलब है कि धर्मक्षेत्र कुरूक्षेत्र की 48 कोस की परिधि के चार यक्ष माने गए है। एक यक्ष पुष्कर तीर्थ पोकरी खेड़ी, एक यक्ष पानीपत जिला के सिंक गांव में, एक पिहोवा में तथा एक पीपली कुरूक्षेत्र में स्थापित है।

जींद के सहकारी चीनी मिल की पिराई क्षमता बढ़ाने की परियोजना का किया शिलान्यास: मुख्यमंत्री ने अपने इस एक दिवसीय दौरे के दौरान जींद के सहकारी चीनी मिल की क्षमता बढ़ाने की परियोजना का भी शिलान्यास किया। वर्तमान में जींद के सहकारी चीनी मिल की पिराई क्षमता 1600 से बढ़ाकर 2200 कर दिया गया है। इस परियोजना पर 20 करोड़ रूपए की राशि खर्च की जा रही है। नवीनतम तकनीक पर आधारित मशीनरी इस सहकारी चीनी मिल में स्थापित की जाएगी। इस मौके पर सहकारी चीनी मिल के प्रबंध निदेशक अश्वनी मलिक भी उपस्थित रहे।

मुख्यमंत्री पूर्व सांसद एवं वर्तमान कलायत के विधायक जय प्रकाश की माता के निधन पर कैथल रोड़ स्थित आवास पर पहुंचे शोक जताने: मुख्यमंत्री ने अपने इस एक दिवसीय दौरे के दौरान कलायत के विधायक जय प्रकाश के आवास पर जाकर संवेदना व्यक्त की।  गौरतलब है कि पिछले दिनों विधायक श्री जयप्रकाश की माता का निधन हो गया । मुख्यमंत्री ने आज जयप्रकाश के आवास पर पहुंचकर अपनी संवेदनाए व्यक्त की।

                तीर्थ स्थलों के दौरे के समय मुख्यमंत्री के साथ सांसद रमेश कौशिक, विधायक श्रीमती प्रेमलता व जसबीर देशवाल, ओएसडी अमरेन्द्र सिहं, पूर्व सांसद सुरेन्द्र बरवाला, प्रदेश सचिव जवाहर सैनी, जिला अध्यक्ष अमरपाल राणा, स्वामी राघवानंद, रामपाल लोट, संतोष दनौदा, ओम प्रकाश थुआ, मास्टर गोगल, सोमपाल रिटोली, संजीव बुआना,जोगेन्द्र सिंह, लीलाधर मित्तल, सज्जन गर्ग, पंडित रामफल शर्मा, डा. ओपी पहल, सीताराम बागड़ी,शुगर फैडरेशन के चेयरमैन चन्द्र प्रकाश कथूरिया, जिला उपायुक्त अमित खत्री, पुलिस अधीक्षक अरूण नेहरा के अलावा जिला प्रशासन के अन्य वरिष्ठ अधिकारी के अलावा तीर्थ स्थलों पर बड़ी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे।

Leave a Reply