जगदीश टाइटलर स्टिंग : पंजाब भाजपा ने गृह मंत्री राजनाथ से मिल एफआईआर दर्ज कर गिरफ्तारी की मांग की

Punjab
By Admin
चंडीगढ़, 8 फरवरी ( ): भारतीय जनता पार्टी पंजाब प्रदेश का एक प्रतिनिधि मंडल केंद्रीय गृह मंत्री श्री राजनाथ सिंह से मिला। प्रदेश अध्यक्ष विजय सांपला के नेतृत्व में मिले इस प्रतिनिधि मंडल ने राजनाथ सिंह को स्पष्ट किया 84 कत्लेआम में कांग्रेस के नेता जगदीश टाइटलर का स्वयं की संलिप्तता का कबूलनामा, जो कि एक स्टिंग के पांच वीडियो के माध्यम से उजागर हुआ है, वह कांग्रेस व जगदीश टाइटलर पर 84 का कत्लेआम करवाने के दोषों का सबसे बड़ा सबूत है और इसी आधार पर उन पर एफआईआर दर्ज कर दिल्ली पुलिस को कार्रवाई करनी चाहिए। सांपला के साथ प्रतिनिधि मंडल में प्रदेश उपाध्यक्ष हरजीत सिंह ग्रेवाल और राज्यसभा सांसद श्वेत मलिक मौजूद थे।
सांपला ने केंद्रीय गृह मंत्री को बताया कि इससे पहले टी.वी. चैनल को दिए गए इंटरव्यू के अंदर टाइटलर ने स्वयं बताया था कि किस तरह कत्लेआम शुरू होने से अगले दिन वह तब के प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने बिना सिक्योरिटी के प्रभावित इलाकों का दौरा किया था। इसमें भी टाइटलर ने एक तरह से सिख कत्लेआम की जानकारी होना, कत्लेआम के दिनों में सडक़ों पर घूमने का स्वयं सबूत दिया है।
सांपला ने गृह मंत्री को आगे बताया कि इन सबूतों के बाद 84 कत्लेआम के अंदर टाइटलर की संलिप्तता का अब कोई संशय नहीं रह गया है। जिस तरह इस स्टिंग में टाइटलर न्यायालय पर टिप्पणी कर और कालेधन की बात कर अब तक की अदालती जांचों को प्रभावित करने की बात कर रहे हैं, इससे स्पष्ट है कि जब तक एफआईआर दर्ज कर हिरासती जांच नहीं होगी, तब तक टाइटलर की संलिप्तता के सबूत तथा टाइटलर के माध्यम से इस कत्लेआम का षडयंत्र रचने वाले कांग्रेसी नेताओं खासकर तत्कालीन प्रधानमंत्री राजीव गांधी की भूमिका का सच उजागर नहीं हो पाएगा, इसलिए टाइटलर पर तुरंत एफआईआर दर्ज कर हिरासती जांच होनी चाहिए।

Leave a Reply