झज्जर जिले के गांवों में पानी निकालने का काम युद्घस्तर पर किया जाए

Haryana
By Admin

चण्डीगढ़, 13 अक्टूबर – हरियाणा के कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री ओम प्रकाश धनखड़ ने कहा कि झज्जर जिले के जिन गांवों में पानी भरा हुआ है उसे युद्घस्तर पर निकालने का काम किया जाए।

कृषि मंत्री आज झज्जर में जल भराव की समस्या को लेकर अधिकारियों के साथ समीक्षा कर रहे थे। कृषि मंत्री ने जल निकासी के लिए सिंचाई, बिजली व अन्य विभागों के अधिकारियों के साथ बनाई गई 6 टास्क फोर्स के कार्य की प्रगति की समीक्षा गांव अनुसार की। उन्होंने एक-एक करके जिले के जल भराव वाले 75 गांवों की वस्तुस्थिति समझी। उन्होंने कहा कि जल निकासी में किसी भी तरह के यंत्र अथवा संसाधनों की जरूरत है तो सरकार की ओर से तत्परता से उपलब्ध कराए जाएंगे।

कृषि मंत्री ने वित्तायुक्त व अन्य उच्च अधिकारियों को त्वरित जल निकासी के लिए करीब 30 हजार फीट पाईप उपलब्ध कराने के निर्देश भी दिए। गौरतलब है कि जिले के गांवों में जल निकासी के लिए सिंचाई विभाग के चीफ इंजीनियर सहित विभिन्न विभागों के आला अधिकारी कृषि मंत्री के निर्देश पर जल निकासी के कार्यों की निगरानी कर रहे है। समाचार लिखे जाने तक देर रात तक भी समीक्षा बैठक जारी थी।

        गांव वाईज पानी की समस्या तथा जल निकासी के प्रबंध के लिए उपलब्ध संसाधनों की जानकारी लेते हुए कृषि मंत्री ने कहा कि हर गांव की जल निकासी की प्रतिदिन की विस्तरित रिपोर्ट उनके समक्ष प्रस्तुत की जाएं। उन्होंने कहा कि डीजल पंप, बिजली पंप अथवा ट्रेक्टरों सहित जल निकासी के लिए जो भी उपाय संभव है उन्हें इस्तेमाल किया जाए। श्री धनखड़ ने कहा कि  मौजूदा सरकार किसान और किसानी के लिए अत्याधिक संवेदनशील है। ऐसे में इस कार्य में लगे अधिकारी व कर्मचारी भी इसी सोच के साथ कार्य करें। उन्होंने सिंचाई विभाग के चीफ इंजीनियर से जल भराव वाले गांवों से पानी निकासी पर संबंधित ड्रेनों व वाटर चेनल का भविष्य का मसौदा बनाने के निर्देश भी दिए ताकि भविष्य में इस तरह की आपदा के प्रबंधन में किसी तरह की देरी ना हो।

Leave a Reply