कैप्टन अमरेन्द्र सिंह द्वारा एक अन्य सिक्ख के साथ नसली भेदभाव की घटना पर भारत व अमरीका की सरकारों को भारतीयों की सुरक्षा यकीनी बनाने की अपील

Punjab
By Admin

चंडीगढ़ 11 जून:अमरीका में एक अन्य सिक्ख के साथ हुये नसली भेदभाव पर गंभीर चिंता व रोष प्रकट करते हुये पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेन्द्र सिंह ने आज भारत सरकार को अमरीका में भारतीयों की सुरक्षा का मुददा प्राथमिकता आधार पर ट्रम्प प्रशासन के समक्ष उठाने की अपील की है।

          मुख्यमंत्री ने वाईस हाऊस को कहा कि लोकतंत्र में ऐसी असहनशीलता के लिए कोई स्थान नही है और ट्रम्प सरकार को ऐसी घटनाए रोकने के लिए कड़े कदम उठाने चाहिए।

          कैप्टन अमरेन्द्र सिंह ने अमरीका के राष्ट्रपति को टवीट करके अपील की कि अमरीका में एक अन्य सिक्ख के साथ हुये नसली भेदभाव से मुझे धक्का लगा है, लोकतंत्र में ऐसी असहनशीलता के लिए कोई स्थान नही है। एक अन्य टवीट मे उन्होने कहा कि अमरीका में भारतीय और सिक्ख स्वयं को सुरक्षित महसूस नही कर रहे। कृपा करके प्राथमिकता के आधार पर उनकी हिफाजत की जाए। मुख्यमंत्री ने यह टवीट प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और केन्द्रीय विदेश मंत्री श्रीमती सुष्मा स्वराज के साथ भी सांझी की है।

          एक बयान द्वारा पिछले कुछ महीनों में अमरीका में रह रहे सिक्खो पर लगातार हो रहे नसली हमलों पर चिंता जाहिर करते हुये मुख्यमंत्री ने कहा कि अमरीका व भारत की सरकार को इस मुददे को हल करने के लिए शीघ्र ध्यान देने की जरूरत है।

          भारत सरकार को भारतीयों विशेषकर सिक्खों की सुरक्षा का मुददा अमरीका सरकार के समक्ष उठाने की अपील करते हुये मुख्यमंत्री ने कहा कि दोनों देशों को आपसी सहयोग व सांझेदारी से हर संभव ढंग से भारतीयों की सुरक्षा यकीनी बनाने की जरूरत है।

          केैप्टन अमरेन्द्र सिंह ने सिक्ख सभ्याचार की पहचान संबधी अमरीकी लोगों को अवगत करवाने और संवेदनशील बनाने की जरूरत पर जोर दिया। क्योकि विश्व के आर्थिक विकास व प्रगति में सिक्खों को बड़ा योगदान है उन्होने कहा कि बहुत से नसली हमले गलत पहचान का परिणाम है और सिक्खों को मुस्लिम मूलवादी समझा जाता है। इस लिए ट्रम्प सरकार द्वारा अमरीकियों को सिक्ख पहचान संबधी अवगत करवाना बहुत अहम हेै।

          मुख्यमंत्री ने इस मामले में अमरीका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को भारतीय चिंताओं संबधी संजीदा होने के लिए कहा है क्योकि दोनों देश विश्व के बड़े लोकतंत्र है और दोनों को समानता व सहनशीलता की कदरों कीमतों को प्रफुल्लित करने के लिए इकटठे होकर कार्य करने की जरूरत है।

Leave a Reply