#कैप्टन अमरेन्द्र ने वेतन आयोग सहित कर्मचारियों की अन्य समस्याओं पर फैसला लेने को वित्त मंत्री के अधीन कमेटी बनाने का वायदा किया

Punjab
By Admin
पटियाला, 25 जनवरी: पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष कैप्टन अमरेन्द्र सिंह ने राज्य के कर्मचारियों के लिए दो सप्ताह के भीतर वेतन आयोग की सिफारिशों, व अन्य समस्याओं पर फैसला लेने के लिए वित्त मंत्री के अधीन एक कमेटी बनाने का वायदा किया है। उन्होंने कहा कि कमेटी की सिफारिशों को बगैर किसी देरी के लागू किया जाएगा।
कैप्टन अमरेन्द्र ने यह भरोसा अलग-अलग स्टेट मिनिस्टरियल सर्विसेज यूनियनों की ज्वाइंट एक्शन कमेटी के एक शिष्टमंडल को दिया, जो बुधवार सुबह उनके साथ यहां मिला। पंजाब स्टेट मिनिस्टरियल सर्विसेज यूनियन, पंजाब ड्राफ्टसमैन एसोसिएशन व वर्करज फैडरेशन ऑफ पंजाब इलैक्ट्रीसिटी बोर्ड से बनी यह ज्वाइंट एक्शन कमेटी है।
इस अवसर पर शिष्टमंडल ने कैप्टन अमरेन्द्र को एक ज्ञापन सौंपा। उन्होंने ध्यानपूर्वक उनकी बात को सुना और सरकार बनाने के बाद प्राथमिकता के आधार पर उनकी मांगों का हल निकालने का भरोसा दिया। प्रदेश कांगे्रस अध्यक्ष ने शिष्टमंडल से कहा कि उनकी समस्याओं को हल करने की दिशा में समयबद्ध तरीके से एक एक्शन प्लान को अमली रूप दिया जाएगा।
कैप्टन अमरेन्द्र ने उन्हें भरोसा दिया कि वित्त मंत्री के नेतृत्व में एक विशेष समिति बनाई जाएगी, जो पक्के या वैकल्पिक तौर पर रिटायरमेंट की उम्र 60 साल की तय करने, वेतन वृद्धि में विस्तार करने व 58 साल की आयु के बाद नौकरी में विस्तार हासिल करने वालों को तरक्की देने बारे उनकी मांग, जो इस मामले में वर्तमान समय में उपलब्ध नहीं है, पर विचार करेगी। 
कैप्टन अमरेन्द्र ने शिष्टमंडल को यह भी भरोसा दिया कि वित्त मंत्री के नेतृत्व वाली कमेटी को ए.सी.पी स्कीम (एश्योरड करियर प्रोग्रेशन स्कीम), जिसे 4-9-14 के नाम से भी जाना जाता है, को लागू करने संबंधी उनकी मांग पर काम करने का निर्देश दिया जाएगा। इसके अलावा, 2004 से मंजूर की गई, पुरानी पैंशन स्कीम को दोबारा शुरू किया जाएगा। 
इसी तरह, बकाया महंगाई भत्ते को एकमुश्त रकम में जारी करने संबंधी पर, कैप्टन अमरेन्द्र ने कहा कि इसे राज्य की वित्तीय हालात के आधार पर, अगले वित्तीय वर्ष की शुरूआत से प्रभावी किया जाएगा।
शिष्टमंडल ने राजस्व की अघोषित बंदी को समाप्त किए जाने की मांग की, ताकि उनके जनरल प्रोवीडेंट फंड व मैडिकल रिइंबरसमेंट, इत्यादि संबंधी बकाया बिलों को बिना देरी क्लियर किया जा सके। कैप्टन अमरेन्द्र ने उन्हें भरोसा दिया कि राजस्व को कभी बंद नहीं किया जाएगा और बिना देरी सभी बकाया बिलों को क्लियर किया जाएगा।
 

Leave a Reply