कैप्टन अमरिंदर सिंह इतिहास की किताबों पर झूठा प्रचार करने वाले अकालियों पर बरसे

re
By Admin
अकाली दल ने पंजाब को बर्बाद कर दिया
शाहकोट के लोगों को राज्य के भविष्य के लिए वोटें डालने की अपील
शाहकोट उप-चुनाव के लिए नामांकन पत्र दाखि़ल करने के अवसर पर कांग्रेसी उम्मीदवार लाडी के साथ शामिल हुए मुख्यमंत्री
शाहकोट, 10 मई-
पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इतिहास की स्कूली किताबों के मामले पर झूठा प्रचार करने वाले अकालियों पर बरसते हुए शाहकोट के लोगों को अपने इलाके और राज्य की बेहतरी के लिए वोटें डालने की अपील की।
    आज यहाँ शाहकोट उप चुनाव के लिए कांग्रेस के उम्मीदवार हरदेव सिंह लाडी के नामांकन पत्र दाखि़ल करने से पहले उनके साथ विशाल सार्वजनिक रैली को संबोधित करते मुख्यमंत्री ने कहा कि एक तरफ़ बादलों के नेतृत्व वाले अकाली दल ने अपने 10 वर्षों के शासन के दौरान पंजाब और पंजाबियों के कुछ भी नहीं किया और दूसरे तरफ़ आम आदमी पार्टी के नेता सुखपाल सिंह खहरा लोगों के कल्याण के साथ जुड़े मसले उठाने की बजाय झूठ-पे-झूठ फैला कर लोगों को गुमराह कर रहा है।
    श्री लाडी की तरफ से एस.डी.एम. के कार्यालय में कागज़ दाखि़ल करने के मौके उनके साथ कैप्टन अमरिंदर सिंह, पंजाब कांग्रेस के प्रधान सुनील जाखड़, ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी के सीनियर नेता आशा कुमारी और हरीश चौधरी के अलावा राणा गुरजीत सिंह, राजिन्दर कौर भ_ल और चौधरी संतोख सिंह उपस्थित थे।
    यहाँ दाना मंडी में रैली के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि वह शिरोमणि अकाली दल के प्रधान सुखबीर सिंह बादल या खहरा की तरह सिफऱ् ढींगे हांक कर समय नहीं बीताते परन्तु वह शाहकोट के लोगों को उनकी सभी जायज माँगें पूरी करने का भरोसा देते हैं। कैप्टन अमरिंन्दर सिंह ने कहा कि हरदेव सिंह लाडी को वोट देने का मतलब पंजाब के बेहतर भविष्य के लिए वोट देना होगा क्योंकि सिफऱ् कांग्रेस पार्टी ही सूबे को तरक्की और ख़ुशहाली की राह पर ला सकती है और एक-एक चुनावी वायदा पूरा करने में विश्वास रखती है। मुख्यमंत्री ने कहा कि वह लाडी को अरसे से जानते हैं जो साफ़ दिल और दृढ़ निश्चय वाले मनुष्य हैं।
    कैप्टन अमरिंन्दर सिंह ने कहा कि अकालियों ने अपने शासनकाल के दौरान सूबे का सर्वनाश कर दिया। उन्होंने कहा कि सूबे के पुनर्गठन से लेकर अकालियों का इतिहास पंजाब के हित तबाह कर देने वाला है। मुख्यमंत्री ने कहा कि सेहत से शिक्षा और कृषि से उद्योग तक शिरोमणि अकाली दल ने सूबे की हरेक संस्था तबाह कर दी और अब जब अकाली विरोधी पक्ष में हैं तो भी वह पंजाब और पंजाबियों की तरक्की और ख़ुशहाली के विरुद्ध लगे हुए हैं।
शिरोमणि अकाली दल के प्रधान सुखबीर सिंह बादल की तरफ से लाडी की गिरफ़्तारी की की जा रही माँग पर चुटकी लेते हुए मुख्यमंत्री ने इस बयान को बेतुका कह कर रद्द कर दिया। उन्होंने कहा कि पूर्व उप मुख्यमंत्री बेतुकी बातें कर रहा है। उन्होंने पूछा, ‘क्या सुखबीर चुनाव आयोग की नुमायंदगी करता है?’
    कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अकालियों की तरफ से धर्म की राजनीति करने की तीखी आलोचना की। उन्होंने कहा कि अकालियों के अपने शिक्षा मंत्री दलजीत सिंह चीमा ने इतिहास के सिलेबस का जायज़ा लेने और इसको अंतिम रूप देने के लिए 2014 में कमेटी स्थापित की थी। उन्होंने कहा कि केंद्र में अकालियों की सहयोगी सत्ता में होने के बावजूद अकाली हरिमंदिर साहिब में लंगर पर न ही जीएसटी लागू किये जाने को रोक सके और न ही वह इसको माफ करवा सके। मुख्यमंत्री ने कहा कि इससे यही साबित होता है कि सिख गुरूओं और धार्मिक संस्थाओं के सम्बन्ध में अकाली दोगली नीति अपना रहे हैं।
    मुख्यमंत्री ने कहा कि अकालियों के उलट कांग्रेस सरकार हरेक चुनावी वायदे को पूरा करने में विश्वास रखती है और इसको कांग्रेस ने अपने पिछले कार्यकाल के दौरान भी सिद्ध किया है। उन्होंने कहा कि इस बार भी सभी चुनावी वायदे पूरे करने की प्रक्रिया पूरे ज़ोर-शोर के साथ चल रही है और इसकी शुरुआत किसानों के कजऱ्े माफ करने से गई है। उन्होंने दोहराया कि उनकी सरकार वित्तीय बोझ होने के बावजूद किसानी कजऱ्े माफ करने की अपनी वचनबद्धता को पूरा करेगी। यह वित्तीय बोझ शिरोमणि अकाली दल और भाजपा की पिछली सरकार से विरासत में मिला है।
    इस मौके पर अपने भाषण में पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रधान सुनील जाखड़ ने कहा कि अकालियोंं को पिछली बार वोट डाल कर की गई गलती में सुधार लाने के लिए उप-चुनाव के दौरान शाहकोट के लोगों को एक मौका मिला है। उन्होंने धर्म का सियासीकरन करने के लिए अकालियों की तीखी आलोचना की जिसके लिए उन्होंने लंगर पर जीएसटी और बरगाड़ी में बेअदबी की घटनाओं का जि़क्र किया।
    नौजवानों को स्मार्ट फ़ोन देने का वायदा पूरा करने में असफल रहने के लिए कैप्टन अमरिंदर सिंह सरकार पर अकालियों द्वारा लगाऐ गए दोषों पर प्रतिक्रिया प्रकट करते हुए जाखड़ ने कहा कि कांग्रेस सरकार अवश्य अपने वायदों को पूरा करेगी। अकाली विधानसभा में दलजीत सिंह चीमा द्वारा किये गए वायदे अनुसार लैपटाप /आई पैड देने में असफल रहे।
    इस मौके पर कैबिनेट मंत्री तृप्त राजिन्दर सिंह बाजवा, साधु सिंह धर्मसोत, बलबीर सिंह सिद्धू, सुखजिन्दर सिंह रंधावा, गुरप्रीत सिंह कांगड़ और सांसद संतोख सिंह उपस्थित थे।