कमल शर्मा ने उठाया केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री के समक्ष  फिरोजपुर पीजीआई सेटेलाइट सेंटर का मुद्दा

re
By Admin
चंडीगढ़,
भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष व राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य  कमल शर्मा ने फिरोजपुर में बनने वाले पीजीआई सेटेलाइट सेंटर  की परियोजना में हो रहे विलंब का मुद्दा केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री श्री अश्विनी कुमार चौबे के समक्ष उठाया और जल्द काम शुरू करने की मांग की। केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री  चौबे आज चंडीगढ़ पीजीआई के दौरे पर आए हुए थे, जिस दौरान  कमल शर्मा ने उनसे मिल कर  उक्त परियोजना में हो रही देरी व इसकी आवश्यकता के बारे में जानकारी दी। इस पर श्री चौबे ने जहां पीजीआई अधिकारियों से इसको लेकर रिपोर्ट मांगी वहीं श्री शर्मा को जल्द कार्रवाई करने का आश्वासन दिया।
अपनी भेंट में कमल शर्मा ने केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री को बताया कि लगभग केंद्र सरकार ने स्वास्थ्य सेवाओं की कमी से जूझ रहे पंजाब के मालवा क्षेत्र व सीमांत इलाके के लिए फिरोजपुर व संगरूर जिलों में पीजीआई सैटेलाइट सेंटर बनाने की परियोजना को मंजूरी दी थी। संगरूर में यह सेंटर शुरू भी हो चुका है परंतु फिरोजपुर में काम निरंतर लटकता आरहा है। इसके लिए पंजाब सरकार दो साल पहले फिरोजपुर में 21 एकड़ जमीन पीजीआई के नाम स्थानांतरित भी कर चुकी है परंतु किन्हीं कारणों से इसका काम आगे नहीं बढ़ पाया है।  कमल शर्मा ने बताया कि वैसे तो पूरा पंजाब कैंसर जैसी समस्या से पीडि़त है परंतु राज्य से सबसे बड़े भू-भाग वाले मालवा इलाके में इसका प्रकोप ज्यादा देखने में आया है। वर्तमान में यहां के लोग राजस्थान के बीकानेर स्थित अस्पताल में कैंसर का ईलाज करवाने जाते हैं जो उनके लिए काफी दूर पड़ता है। कहने को राज्य के बड़े शहरों में कैंसर के इलाज के निजी अस्पताल तो हैं परंतु यहां इलाज महंगा होने के कारण साधारण लोग इसका लाभ उठा पाने में असमर्थ हो जाते हैं। इस पर केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री ने उन्हें इस परियोजना पर जल्द काम शुरू करवाने का भरोसा दिलवाया। इस मौके पर पीजीआई के निदेशक श्री जगत राम व स्वास्थ्य विभाग के उच्चाधिकारी भी मौजूद थे।