‘आप’ पंजाब कोर समिति की तरफ से लिए गए कई अहम फैसले 

Punjab
By Admin


-चेयरमैन बुद्ध राम की अध्यक्षता की गई बैठक में भगवंत मान और हरपाल चीमा पहुंचे
-सरबजीत कौर माणूंके के नेतृत्व में 5 सदस्यता तालमेल समिति का किया गठन
– मनजीत सिंह बिलासपुर को एससी विंग का प्रधान और कुलवंत सिंह पंडोरी को सह प्रधान किया नियुक्त

चण्डीगढ़, 16 अक्तूबर 2018
आम आदमी पार्टी (आप) पंजाब की पंजाब कोर समिति की बैठक चेयरमैन और विधायक प्रिंसिपल बुद्ध राम की अध्यक्षता में मंगलवार को चण्डीगढ़ में हुई। जिस में कोर समिति मैंबर और संसद भगवंत मान,विरोधी पक्ष के नेता हरपाल सिंह चीमा, उप नेता सरबजीत कौर माणूंके, विधायक अमन अरोड़ा, कुलतार सिंह संधवां, मीत हेयर, मनजीत सिंह बिलासपुर, रुपिन्दर कौर रूबी, अमरजीत सिंह सन्दोआ और कुलवंत सिंह पंडोरी (सभी विधायक), डा. बलबीर सिंह, कुलदीप सिंह धालीवाल, डा. रवजोत सिंह, दलबीर सिंह ढिल्लों और गुरदित्त सिंह सेखों, सुखविन्दर सुखी, जमीलू उर -रहमान और मनजीत सिद्धू मैंबर कोर समिति शामिल हुए।


बैठक दौरान बीबी सरबजीत कौर माणूंके के नेतृत्व में एक पांच सदस्यता तालमेल समिति का गठन किया गया, जो पार्टी के नाराज नेताओं के साथ दूरियां खत्म करने के लिए काम करेगी। समिति में संसद मैंबर भगवंत मान, मीत हेयर, रुपिन्दर कौर रूबी और कुलवंत सिंह पंडोरी (सभी विधायक) शामिल हैं।
पार्टी की मज़बूती के लिए समिति ने ‘हमारा बूथ सब से मज़बूत ’ प्रोगराम के अंतर्गत पार्टी को धरातल स्तर तक मजबूत करने का प्रोगराम भी बनाया।
पार्टी के संगठनात्मक ढांचो के विस्तार के अंतर्गत कोर समिति ने विधायक मनजीत सिंह बिलासपुर को ‘आप ’ एस.सी (दलित) विंग का सूबा प्रधान और विधायक कुलवंत सिंह पंडोरी को सूबा सह प्रधान नियुक्त किया। कोर समिति में ‘आप ’ विधायक ऐचऐस फूलका की तरफ से बेअदबी मामे में दोषियों को सजा न दिए जाने के रोष के तौर पर दिए गए इस्तीफे को ‘फूलका साहिब की कुर्बानी ’ करार दिया गया। समिति ने कहा कि फूलका ने यह इस्तीफा कैप्टन अमरिन्दर सिंह समेत 5 कांग्रेसी मंत्रियों की जमीर जगाने के लिए दिया। समिति में विशेष तौर पर कहा गया कि विधायक केवल पांच साल के लिए होता है परन्तु फूलका की इस कुर्बानी को सदियों तक याद रखा जायेगा। कोर समिति ने कैप्टन अमरिन्दर सिंह को मीडिया के द्वारा संदेश दिया कि वह फूलका का इस्तीफ़ा स्वीकृत करने की जगह बेअदबी और बहबल कलां के दोषियों को सजा दें, नहीं तो उनका (कैप्टन) का नाम इतिहास के काले पन्नों में लिखा जायेगा।
कोर समिति में डीज़ल -पेट्रोल और बिजली की रोज़ बढ़तीं दरों के विरुद्ध लोग हित संघर्ष शुरू करने के प्रोगराम बनाऐ। जिस की जल्दी ही घोषणा की जायेगी। कोर समिति में लोक सभा मतदान के लिए उम्मीदवारों का चयन के लिए प्रक्रिया पर चर्चा हुई। फैसले अनुसार नवंबर अंत तक सभी सीटों घोषित कर दीं जाएंगी।
कोर समिति में भगवंत मान और प्रो. साधु सिंह की तरफ से पीजीआईचण्डीगढ़ को स्टेनलेस स्टील की 300 ट्रालियां देने की प्रशंसा की गई, जो 30 लाख की कीमत के साथ अगले कुछ दिनों में पीजीआई को मिल जाएंगी।

Leave a Reply